जागरण संवाददाता, हाथरस : सामान्य दिनों में सुनसान रहने वाला एमजी पॉलीटेक्निक मैदान बुधवार को गुलजार था। दिनभर मेला सा लगा रहा। पोलिग पार्टियों का सुबह से ही पहुंचना शुरू हो गया था। वहां से मतपेटिका और थैलों को अपने कब्जे में लेने के बाद मुहर आदि की प्रक्रिया पूरी करके बसों से मतदान केंद्रों के लिए रवाना हो चुके थे।

हाथरस ब्लाक क्षेत्र में होने वाले त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए एमजी पॉलीटेक्निक के मैदान से पार्टियों को रवाना किया गया था। कालेज में अलग-अलग पोलिग पार्टियों की डेस्क बनाई गई थी। सुबह से मतपेटिका से लेकर मतपत्र समेत मतदान के दौरान काम में आनी वाली सामग्री टीम ने कब्जे में ली। काफी देर तक पोलिग पार्टियां छांव में बैठकर मतपत्रों की गिनती से लेकर उन पर मुहर लगाने का काम करती रहीं। इसके अलावा कोई गर्मी के कारण माथे का पसीना पोंछता नजर आया तो कोई ठंडे पानी की तलाश में था। दोपहर होने तक पार्टियां रवाना हो चुकी थीं और बसें भी अधिकांश निकल चुकी थीं। दिनभर दौड़े अधिकारी, रोड से पकड़कर की वाहनों की पूर्ति

संस, हाथरस : परिवहन विभाग ने वाहनों की धर-पकड़ कर वाहनों की व्यवस्था की और उन्हें प्रशासनिक अधिकारियों को सौंप दिए। पोलिग पार्टियों के रवाना होने तक परिवहन विभाग के अधिकारी हाथरस सहित तीनों तहसीलों पर जमे हुए थे।

शांतिपूर्ण तरीके से त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव कराने के लिए वाहनों की व्यवस्था करने में परिवहन विभाग लगा हुआ था। 12 अप्रैल को निर्धारित तिथि तक वाहनों के उपस्थित नहीं होने से विभागीय अधिकारियों को पसीने छूट रहे थे। समय से वाहनों की व्यवस्था करने के लिए परिवहन विभाग की ओर से अधिग्रहण नोटिस भी वाहन स्वामियों को बांटे गए थे। वाहनों की कमी पूरी करने के लिए दोनों एआरटीओ ने मोर्चा संभालते हुए सड़कों पर वाहनों की धर पकड़ शुरू कर दी। इसमें 5 बसों सहित करीब 50 वाहनों को चुनाव के लिए पकड़ा। यह वाहन अधिग्रहण के बाद भी नहीं पहुंच रहे थे। जिले में हाथरस, सिकंदराराऊ व सादाबाद से वाहनों को संबंधित ब्लाकों को भेजा गया। एआरटीओ प्रशासन नीतू सिंह ने बताया कि वाहनों की व्यवस्था पूरी हो गई है। चुनाव संपन्न होने के बाद वाहनों को मुक्त कर दिया जाएगा।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप