जासं, हाथरस : विकासखंड हाथरस के सभागार में ब्लाक बाल संरक्षण समिति एवं बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, बाल विवाह टास्क फोर्स की बैठक, प्रशिक्षण का आयोजन ब्लाक प्रमुख पूनम पांडेय की अध्यक्षता में किया गया। इस मौके पर ब्लाक प्रमुख पूनम पांडेय ने कहा कि बेटियों के साथ साथ बेटों को भी संस्कारवान बनाएं। उन्होंने कहा कि जरूरतमंद बच्चों को सरकारी योजनाओं से जोड़ कर लाभान्वित कराया जाना चाहिए। आज महिलाएं सभी उच्च पदों पर आसीन हैं कितु फिर भी कहीं न कहीं वे उपेक्षा की शिकार हैं। हमें महिलाओं एवं बालिकाओं की स्थिति सुधारने के लिए विशेष बल देने की आवश्यकता है।

खंड विकास अधिकारी रीता सिंह ने समस्त विभागों द्वारा संचालित योजनाओं का अधिक से अधिक लाभ प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया। कहा कि महिलाओं को बेटी के साथ बेटों को भी अच्छे व्यवहार की शिक्षा देनी चाहिए। महिला कल्याण अधिकारी मोनिका गौतम ने कहा कि हम सबको बालिकाओं और महिलाओं के प्रति हो रहे सामाजिक भेदभाव को खत्म करना है। हाथरस ब्लाक पर 36 प्रधानों को दी ट्रेनिग

जासं, हाथरस : राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के अंतर्गत विकास खंड स्तरीय प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रथम दिन 36 ग्राम प्रधानों को हाथरस ब्लाक पर राज्य स्तर से नामित प्रशिक्षकों ने प्रशिक्षण दिया। कार्यक्रम में जिला पंचायत राज अधिकारी ने ग्राम प्रधानों को प्रधान पद के कर्तव्य एवं दायित्वों के बारे में बताया। जिला पंचायत राज अधिकारी जीडी जैन ने समस्त ग्राम प्रधानों को संचारी रोग नियंत्रण के लिए ग्राम में कहीं भी जलभराव की स्थिति न होने देने के लिए यथा आवश्यक सोकपिट निर्माण, नाली निर्माण कराने के निर्देश दिए। ग्राम पंचायतों में फागिग मशीन, एंटी लार्वा दवाई, पब्लिक एड्रेसिग सिस्टम खरीदने के निर्देश दिए गए। राज्य स्तर से जारी प्रशिक्षण कार्यक्रम के अनुसार ग्राम प्रधानों को स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) फेज-2 के अंतर्गत ठोस एवं तरल अपशिष्ट पदार्थों के निस्तारण एवं शौचालयों की रेट्रोफिटिग के संबंध में जिला कंसलटेंट योगेश सारस्वत ने विस्तृत जानकारी दी। ई-ग्राम स्वराज अभियान एवं राष्ट्रीय ग्राम स्वराज अभियान के संबंध में गौरव जैन, डीपीएम ने जानकारी दी।

Edited By: Jagran