संवाद सहयोगी, हाथरस : चंदपा क्षेत्र के गांव दरकई में गोवंश के अवशेष मिलने से गुस्साए अखिल भारत हिदू महासभा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को चंदपा कोतवाली पर प्रदर्शन किया। इस दौरान आयोजित सभा में दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग की। वहीं शहर में विश्व हिदू परिषद व बजरंग दल ने गोवंश का वध करने वालों को जेल भेजने की मांग की।

गुरुवार की शाम को करीब छह बजे अखिल भारत हिदू महासभा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संजय जाट अपने साथियों के साथ चंदपा कोतवाली पहुंचे। वहां उन्होंने गोवंश की हत्या के मामले में लापरवाही बरतने वाले पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग करते हुए नारेबाजी व प्रदर्शन किया। वहीं मंदिर के निकट ही बैठकर भजन-कीर्तन किया और सभा आयोजित की। राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा कि गोवंश का वध करने वालों का पुलिस जल्द से जल्द पता करे और उन्हें गिरफ्तार करके जेल भेजे। हाथरस जनपद में जहां-जहां गोशाला संचालित हैं, पुलिस प्रशासन उनकी पूरी सुरक्षा का इंतजाम करे। उन्होंने कहा है कि अलीगढ़ में भी इसी तरह की घटना हुई थी। उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि वह इस तरह की घटनाओं पर अंकुश लगाएं। प्रदेश अध्यक्ष सचिन प्रताप सिंह भदोरिया ने कहा है कि दरकई मामले में सीओ, इंस्पेक्टर और चौकी प्रभारी की लापरवाही सामने आई है। इसलिए उन्हें निलंबित किया जाए। करीब दो घंटे तक चली इस सभा के बाद महासभा के पदाधिकारियों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। इस मौके पर मीना दिवाकर, पवन जिदल, विशाल कुमार, जितेन्द्र कुशवाहा, मनीष पंडित, जतिन सारस्वत, अंजुल गुप्ता, दीपक कुमार, सुनील, कन्हैया यादव, अजीव कुमार आदि मौजूद रहे। ज्ञापन न लेने पर प्रदर्शन

विश्व हिदू परिषद के जिलाध्यक्ष मुकेश सूर्यवंशी गुरुवार दोपहर को अपने साथियों के साथ दरकई प्रकरण में डीएम कार्यालय पर ज्ञापन देने के लिए पहुंचे, लेकिन काफी देर तक जब डीएम नहीं आए तो कार्यकर्ताओं में आक्रोश पनप गया। कुछ कार्यकर्ता तालाब चौराहे पर एकत्रित हो गए। जिलाध्यक्ष का आरोप है कि काफी देर बाद जब जिलाधिकारी आए तो एक व्यक्ति को ज्ञापन देने के लिए कहा गया, जबकि दोपहर से कार्यकर्ता डीएम का इंतजार कर रहे थे। बिना ज्ञापन दिए ही कार्यकर्ता लौट आए। सतर्क रहा पुलिस-प्रशासन

गोवंश के अवशेष मिलने के बाद हिदुत्ववादियों में आक्रोश था। कोई बड़ी वारदात न हो जाए, इसको लेकर सुबह से ही पुलिस व प्रशासन सतर्क रहा। चंदपा कोतवाली के अलावा पुरानी कलक्ट्रेट पर पुलिस बल तैनात रहा। शहर में एसडीएम सदर, सीओ सिटी व मुरसान इंस्पेक्टर तैनात रहे।

Edited By: Jagran