जासं, हाथरस : उद्यमियों की समस्याओं का निस्तारण करने के लिए बुधवार को जिला स्तरीय उद्योग बंधु समिति की बैठक कलक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी रमेश रंजन की अध्यक्षता में हुई। उन्होंने प्राथमिकता के आधार पर उद्यमियों की समस्याओं का निस्तारण करने के निर्देश दिए। वहीं अलीगढ़ रोड पर अलग से औद्योगिक फीडर बनाने को स्वीकृति मिल गई है।

विद्युत प्रकोष्ठ व बिल भुगतान पटल के लिए भूमि के सम्बंध में जिलाधिकारी ने जानकारी ली। अधिशासी अभियंता ने बताया कि तकनीकी कार्य तथा हार्डवेयर की स्थापना व कनेक्टिविटी के लिए टावर की स्थापना की जा चुकी है। विद्युत प्रकोष्ठ व बिल भुगतान पटल का कार्य प्रारंभ किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बिल भुगतान से संबंधित पटल सहायक व कर्मचारी की तैनाती कर दी गई है। अलीगढ़ रोड पर अलग से औद्योगिक फीडर का प्रस्ताव उच्चाधिकारियों से स्वीकृति के बाद प्राप्त हो गया है। औद्योगिक फीडर के निर्माण की टेंडर प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में सड़कों को सही कराने के बारे में क्षेत्रीय प्रबंधक यूपीडा द्वारा अवगत कराया गया कि 2.30 करोड़ की धनराशि का प्रस्ताव शासन को भेजा गया है। साथ ही अधिशासी अभियंता विद्युत वितरण खंड-तृतीय ने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में विद्युत संबंधी समस्याओं जैसे-जर्जर तार, जर्जर पोल व लाइनों के सु²ढ़ीकरण कराने के लिए स्वीकृति दी जा चुकी है। छोटे व लघु उद्योगों को दो किलोवाट से नौ किलोवाट तक के संयोजन जारी करने के लिए 100 केवीए का ट्रांसफार्मर स्वीकृत करा लिया गया है। उद्यमियों को अलग से ट्रासंफार्मर स्थापित कराने का खर्चा वहन नहीं करना पड़ेगा।

जिलाधिकारी ने उपायुक्त उद्योग को अपने स्तर से औद्योगिक क्षेत्र सलेमपुर में नालियों की सफाई कराने के निर्देश दिए। उपायुक्त उद्योग ने केंद्र व राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के ऋण स्वीकृति के बारे में जानकारी दी। ओडीओपी योजना में 38 का लक्ष्य प्राप्त हुआ था। 47 आवेदन प्राप्त हुए थे, जिनमें से 39 आवेदनों को कार्यवाही के लिए बैंक भेज दिएच गए हैं। इसमें बैंकों की ओर से 07 आवेदनों को स्वीकृति प्रदान करते हुए 05 आवेदनों को ऋण उपलब्ध करा दिया गया है। इस अवसर पर एडीएम वित्त जेपी सिंह, अधिशासी अभियंता विद्युत, श्रम प्रवर्तन अधिकारी, अग्नि शमन अधिकारी, कोतवाल हाथरस, उद्यमी तथा अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran