हरदोई, संवादसूत्र। संडीला में चोर समझकर एक परिवार के लोगों ने युवक को पकड़ लिया और घर के अंदर बरामदे के खंभे में बांधकर उसकी जमकर पिटाई की। पुलिस पहुंची और युवक को लेकर सीएचसी आई, जहां पर प्राथमिक उपचार के बाद पीड़ित की तहरीर पर तीन के विरुद्ध एफआइआर दर्ज कर ली है। बता दें क‍ि बच्‍चा चोर की अफवाह के बाद से इस तरह के कई मामले सामने आ चुके हैं। 

ग्राम महसोना के कैलाश मौर्या बुधवार देर रात गांव में ही घूम रहे थे। गांव के ही कुछ लोगों ने युवक को चोर समझ लिया और पकड़ लिया। इन लोगों ने युवक को एक घर के अंदर ले जाकर बरामदा के खंभा में बांध दिया और लाठी-डंडे व लात-घूसों से मारापीटा। आसपास के लोगों की भीड़ लग गई।

गुरुवार अलसुबह ग्रामीणों ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। गांव पहुंची पुलिस तो, युवक को सौंप दिया गया। कोतवाल दिलेश सिंह ने बताया कि पीड़ित कैलाश मौर्या की ओर से गांव के ही रामसिंह, सर्वेश कुमार और कल्लू गद्दी के विरुद्ध मारपीट की एफआइआर दर्ज कर ली गई है। तीनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया गया है। युवक का प्राथमिक उपचार कराने के बाद घर भेज दिया गया है। मामले की जांच उप निरीक्षक प्रमोद कुमार दुबे को सौंपी गई है।

आए दिन हो रहीं घटनाएं : बच्चा चोर और बदमाशों को लेकर ग्रामीण डरे हुए हैं। गांव में कोई भी अंजान व्यक्ति या संदिग्ध घूमता है तो, ग्रामीण उसे पकड़ लेते हैं और बंधक बनाकर मारते-पीटते हैं। इससे पूर्व देहात क्षेत्र के ग्राम इटौली में भी कुछ लोगों ने एक युवक को बंधक बनाकर सरकारी हैंडपंप से बांधकर मारापीटा था, जिसमें एएसपी पूर्वी अनिल कुमार यादव ने आरोपितों पर सख्त कार्रवाई करने की बात कही थी, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

Edited By: Anurag Gupta