हरदोई : सुहेल देव समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने केंद्र और प्रदेश सरकार को घेरा। कहा कि उन्होंने समाज की खातिर मंत्री पद त्याग दिया। प्रदेश सरकार पर उन्होंने पूर्व सांसद चिन्मयानंद को बचाने का आरोप लगाया। बोले कि जैसे कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाया वैसे ही देश से 70 हटाकर शराब बंदी कर दें। गुजरात के प्रधानमंत्री हैं तो शराब बंदी कर दी। गरीबों के हितैषी हैं तो यहां पर भी करके दिखाएं।

गांधी भवन मैदान में वंचित बहुजन समाज एकता रैली को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि समाज की खातिर उन्होंने त्याग किया। वह भाजपा की हां में हां मिलाते तो मंत्री बनकर राज करते। मगर समाज को आगे बढ़ने के लिए पद त्याग दिया। भाजपा ने जनधन खाते में 15 लाख भेजने का वादा किया था मगर एक रुपया नहीं आया। योगी रोजगार के लिए अलग अलग बयान देते हैं और तीन सितंबर को कैबिनेट की बैठक में प्रदेश में पुलिस व स्वास्थ्य को छोड़ कर नौकरियों पर रोक लगा दी और 13 को बयान दे रहे हैं कि नौकरी देंगे। राष्ट्रवाद का गलत पाठ पढ़ाते हैं। उन्होंने कहा कि कश्मीर में 370 धारा हटाने का स्वागत करते हैं लेकिन जिस प्रकार कश्मीर में 370 हटाया उसी प्रकार प्रदेश में 70 हटा दो। तब मानूंगा कि वह गरीबों के मसीहा हैं। प्रदेश में शराब बंदी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार चिन्मयानंद को बचा रही है और पीड़ितों को परेशान कर रही है। उन्होंने भाजपा से दूरी बना कर पार्टी के साथ जुड़ने की अपील की। रैली को प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह अर्कवंशी, अरविद राजभर, अरुण राजभर, विधायक कैलाश नाथ, महिला मोर्चा की अध्यक्ष राधिका पटेल ने भी संबोधित किया। प्रदेश अध्यक्ष ने दिखाई ताकत

प्रदेश अध्यक्ष सुनील अर्कवंशी ने एक बार फिर जिले में अपनी ताकत का अहसास कराया। गांधी मैदान बड़ी बड़ी जनसभा में ही भर पाता है, सुनील अर्कवंशी ने उसे भीड़ से भर दिया। हरदोई की सीमा से ही स्वागत शुरू हुआ जोकि गांधी भवन तक चलता रहा। प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि पार्टी ने समाज की खातिर त्याग किया है। समाज पार्टी के साथ आए।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस