हरदोई: विधान सभा चुनाव में जहां राजनीतिक दल टिकट वितरण में जीत के समीकरण देख रहे हैं। वहीं दावेदार मतदाताओं की नब्ज टटोलने में लग गए। हर प्रत्याशी अपनी अपनी तरह से चुनावी माहौल बना रहा है। वहीं लगातार विधायक चुने जाते रहे दिग्गजों ने राजनीति की पिच पर हैट्रिक बनाने की जुगत में लग गए हैं। जिले के आठ विधान सभा क्षेत्रों में देखें तो शाहाबाद से रजनी तिवारी और सदर विधायक नितिन अग्रवाल लगातार तीन बार विधायक बनकर चौथी बार विधायक बनने की आस में हैं। गोपामऊ विधायक श्याम प्रकाश लगातार दो बार विधायक बनने के बाद तीसरी बार मैदान में हैं। 15 एचआरडी 07

नितिन अग्रवाल बना चुके हैं हैट्रिक

हरदोई सदर से विधायक नितिन अग्रवाल ने वर्ष 2008 के उपचुनाव में पिता पूर्व सांसद नरेश अग्रवाल की राजनीतिक विरासत संभाली थी। बसपा से पहली बार विधायक बनने के बाद उनके कदम रुके नहीं। वर्ष 2012 में समाजवादी पार्टी से विधायक बनकर प्रदेश सरकार में मंत्री बने और फिर 2017 में फिर से समाजवादी पार्टी से ही चुनाव जीता। हालांकि फिर वह भाजपा में आ गए और लगातार तीन बार विधायक बनकर हैट्रिक बनाने के बाद वह चौथी बार मैदान में हैं।

15 एचआरडी 06

गोपामऊ से श्याम प्रकाश भी हैट्रिक बनाने को तैयार

गोपामऊ विधान सभा क्षेत्र से भाजपा विधायक श्याम प्रकाश वैसे तो तत्कालीन अहिरोरी क्षेत्र से वर्ष 1996 और फिर 2004 में विधायक बने। गोपामऊ विधान सभा सीट बनने पर वर्ष 2012 के चुनाव में इस क्षेत्र से सपा के पहले विधायक चुने गए और फिर 2017 के चुनाव में लगातार दूसरी बार भाजपा से विधायक बने। लगातार दो बार विधायक बनने के बाद अब 2022 में वह हैट्रिक बनाने के लिए फिर से मैदान में हैं।

15 एचआरडी 05

चौथी बार विधायक बनने को मैदान में रजनी तिवारी

शाहाबाद से भाजपा विधायक रजनी तिवारी भी लगातार तीन बार विधायक रह चुकी हैं। वर्ष 2008 में तत्कालीन बिलग्राम विधान सभा क्षेत्र से उपचुनाव में पहली बार विधायक बनकर उन्होंने अपने पति पूर्व विधायक स्वर्गीय उपेंद्र तिवारी की राजनीतिक विरासत संभाली थी। परिसीमन में बिलग्राम विधान सभा सीट खत्म होने के बाद उन्होंने वर्ष 2012 में सवायजपुर से

विधान सभा चुनाव जीता और फिर 2017 में शाहाबाद क्षेत्र से भाजपा से तीसरी बार विधायक बनकर हैट्रिक बनाई और अब 2020 में भी वह चौथी बार मैदान में हैं।

Edited By: Jagran