हरदोई : जिला प्रशासन के लाख प्रयास के बावजूद सरकारी मक्का खरीद का लक्ष्य पूरा नहीं हो सका है। 15 जनवरी यानि मंगलवार को मक्का खरीद केंद्र बंद हो जाएगे। विभागीय आंकड़ों के अनुसार अब तक 14.8 फीसद मक्का खरीद हो सकी है।

शासन ने जनपद को 6500 एमटी मक्का खरीद का लक्ष्य निर्धारित किया गया था, जिसको लेकर जिला प्रशासन ने छह सरकारी क्रय केंद्र खोले थे। सभी केंद्र प्रभारियों को अलग-अलग लक्ष्य निर्धारित किया गया था। शुरुआती दौर में मक्का में नमी खरीद में बाधा बनी, जिससे मक्का खरीद प्रभावित हुई। इसके बाद मक्का खरीद ने तेजी पकड़ी, तब तक बाजार भाव भी चढ़ गया। बाजार भाव चढ़ने के पीछे अधिकारी प्राइवेट संस्थाओं द्वारा बड़े पैमाने पर मक्का की खरीद करने को कारण मान रहे हैं।

विभागीय आंकड़ों पर गौर करें तो लक्ष्य के सापेक्ष महज 965 एमटी यानि 14.5 फीसद मक्का खरीद हो सकी। जिला खाद्य विपणन अधिकारी अनुराग पांडेय ने बताया कि शासन की ओर से 14 फीसद नमी का मानक रखा गया था, जो काफी कम था। इसके अलावा प्राइवेट संस्थाओं द्वारा बड़े पैमाने पर मक्का की खरीद की गई, जिससे भाव चढ़ गया। वर्तमान समय में 1800 रुपये प्रति क्विंटल मक्का की बिक्री हो रही है। मक्का खरीद में पिहानी रहा फिसड्डी : विभागीय आंकड़ों के अनुसार विपणन शाखा प्रथम केंद्र पर लक्ष्य के सापेक्ष 10.1 फीसद, माधौगंज विपणन शाखा केंद्र पर 8.4 फीसद, सांडी विपणन शाखा केंद्र पर 43 फीसद, संडीला विपणन शाखा केंद्र पर 84 फीसद, शाहाबाद विपणन शाखा क्रय केंद्र पर 9.9 फीसद और पिहानी विपणन शाखा केंद्र पर 1.5 फीसद मक्का की खरीद दर्शाई गई हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप