हरदोई : शहर कोतवाली से चंद कदमों की दूरी पर बुधवार की रात कुछ लोगों ने अधिवक्ता पर जानलेवा हमला कर दिया गया। उनका कहना है कि हमलावर उनसे रुपये और चेन भी लूट ले गए। इस मामले में एक सिपाही समेत चार लोगों पर नामजद और तीन अज्ञात पर एफआइआर दर्ज कराई है।

शहर कोतवाली क्षेत्र के मुहल्ला कौशलपुरी निवासी आलोक अवस्थी पुत्र चंद्र प्रकाश अवस्थी ने आरोप लगाते हुए बताया कि आजाद नगर निवासी विक्की मिश्रा पुत्र मोतीलाल शातिर अपराधी है और कई अवैध कार्य करता है। जिसके शिकायत उन्होंने कुछ दिनों पूर्व की थी। बुधवार की देर रात सीनियर अधिवक्ता ओपी दीक्षित के घर से अपने साथी अधिवक्ता मनीष मिश्रा को उनके आवास पर छोड़कर घर जा रहे थे। नुमाइश चौराहे के पास एक दुकान में घात लगाकर बैठे विक्की मिश्रा, सिपाही राहुल वर्मा, वीरु सिंह, सौरभ गुप्ता व तीन अज्ञात लोगों ने उन पर लोहे की राड और लाठी से हमलाकर दिया और फायर की। इसके बाद हमलावरों ने उनके 75 सौ रुपये, सोने की चेन निकाल निकाली ली। सिपाही राहुल ने घटना को हादसा दिखाने की बात कहते हुए वीरु उन्हें शराब पिलाई। शोरगुल सुनकर कुछ लोगों के आने पर हमलावर मौके से फरार हो गए। घटना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया। शहर कोतवाल शैलेंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि अधिवक्ता की तहरीर पर एफआइआर दर्ज कर ली गई है। मामले की जांच की जा रही है। जल्द ही कार्रवाई की जाएगी। न्यायिक कार्यों से विरत रहे अधिवक्ता : बार एसोसिएशन की आपात आमसभा की बैठक गुरुवार को अध्यक्ष पीके मिश्रा की अध्यक्षता में संपन्न हुई। जिसका संचालन जेपी त्रिवेदी ने किया। बैठक में सर्वसम्मति से न्यायिक कार्याें से विरत रहने का फैसला लिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप