हरदोई : आपराधिक घटनाओं में संलिप्तता, क्षेत्र में भय एवं आतंक फैलाने की पुलिस रिपोर्ट पर प्रशासन ने सांडी के पूर्व ब्लाक प्रमुख समेत तीन पर गुंडा नियंत्रण अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए 6-6 माह के लिए जिला बदर किया है। एडीएम संजय कुमार ¨सह ने न्यायालय में सुनवाई करते हुए यह निर्णय लिया।

एडीएम ने मामले की सुनवाई करते हुए पुलिस रिपोर्ट को मजबूत पाया और शांतिपूर्ण वातावरण के लिए आपराधिक प्रवृत्ति के व्यक्तियों पर कार्रवाई की। बताया गया कि पुलिस टीम पर हमला के आरोपी के साथ ही क्षेत्र में भय एवं फैलाने के आरोपी सांडी के पूर्व ब्लाक प्रमुख अरवल थाना क्षेत्र के तेरापरसौली निवासी महेंद्र ¨सह यादव पुत्र गया प्रसाद यादव एवं तेरापरसौली के मजरा डूडेपुरवा निवासी देवेंद्र यादव पुत्र हरिकरन यादव को 6-6 माह के लिए जिला बदर किया गया है। दोनों पर पुलिस टीम पर हमला की भी रिपोर्ट दर्ज है। वहीं बताया गया कि कोतवाली शाहाबाद के तड़ेर निवासी विशंभर पुत्र राजाराम को भी 6 माह के लिए जिला बदर किया गया है। पुलिस अधिकारियों एवं सभी थाना-कोतवाली प्रभारियों से कहा गया है कि जिला बदर के आदेश का प्रभावी पालन कराया जाए। जिला बदर किए गए लोगों में से किसी के भी जिले की सीमा में पाए जाने पर गिरफ्तारी सुनिश्चित की जाए।

Posted By: Jagran