Move to Jagran APP

UP News: दहशत में यूपी के किसान, हजारों बीघा फसलों पर मंडराया खतरा; यहां गंगा का जलस्तर घटने से ग्रामीणों ने ली राहत की सांस

गंगा का जलस्तर घटने से किसानों ने राहत की सांस ली है। हालांकि दो दिन पहले गंगा उफान पर थी जिससे किसानों की चिंता बढ़ गई थी। वहीं गंगा से सटे खेतों में मिट्टी का कटान हो रहा है जिससे हजारों बीघा फसलों पर खतरा मंडराया हुआ है। इससे किसनों में दहशत का माहौल बना हुआ है। इसी के चलते अफसरों ने ग्रामीणों के साथ बैठकी की है।

By Jagran News Edited By: Kapil Kumar Thu, 11 Jul 2024 11:53 AM (IST)
गढ़मुक्तेश्वर में गंगा का जलस्तर घट गया है। (जागरण फोटो)

जागरण संवाददात, गढ़मुक्तेश्वर। उत्तराखंड में पहाड़ी इलाकों में बारिश का सिलसिला थम गया है। जिसकी वजह से गंगा जलस्तर में कमी देखने को मिल रही है। जिससे किसानों ने राहत की सांस ली है।

हजारों बीघा फसल पर मंडरा रहा खतरा

वहीं, गंगा से सटे खेतों में भूमि का कटान हो रहा है, जिससे हजारों बीघा फसल गंगा में समाने का खतरा मंडरा रहा है। 24 घंटे के भीतर 40 सेंटीमीटर जलस्तर में कमी आई है।

यह भी पढ़ें- Gandak River Water Level: गंडक नदी में फिर उफान, बराज से 1.75 लाख क्यूसेक पानी डिस्चार्ज; बाढ़ का खतरा बढ़ा

दो दिन पहले उफान थी गंगा

बाढ़ नियंत्रण कक्ष के अनुसार, गुरुवार की सुबह जलस्तर 196.08 मीटर पहुंच गया था जबकि, दो दिन पहले गंगा नदी पूरी तरह से उफान पर थी। जिससे गंगा किनारे बसे लोगों में दहशत का माहौल बन गया था।

यह भी पढ़ें- Bihar Flood News: कोसी तटबंध के अंदर गांवों में बाढ़ के हालात, गोपालगंज के कई इलाके पानी से घिरे; लोगों में फैली दहशत

अफसरों ने ग्रामीणों के साथ की बैठक

बता दें कि गंगा में कटान जारी है, जिससे किसानों को फसल बहने बहने का खतरा मंडरा रहा है। वहीं तहसील प्रशासन लगातार गांवों में जाकर लोगों के साथ बैठक कर उन्हें सचेत करते हुए नजर आ रहे हैं।

तहसीलदार सीमा सिंह ने बताया कि राजस्व टीम गांवों में भ्रमण कर रही हैं, जलस्तर में काफी गिरावट आई है, येलो अलर्ट से भी गंगा नदी का जलस्तर काफी कम है, फिलहाल किसी को कोई परेशानी नहीं है।