Move to Jagran APP

जमीन के लिए शख्स ने बलकटी से वार कर अपने ही भाई को उतारा मौत के घाट, बोरे में बंद कर सूखे कुएं में फेंका शव

जमीन की खातिर थाना हाफिजपुर क्षेत्र के गांव चितौली में एक व्यक्ति ने अपने सगे भाई की धारदार बलकटी से वार कर हत्या कर दी। घटना पर पर्दा डालने के लिए शव को बोरे में बंद कर एक सूखे कुएं में फेक दिया।

By Kesav TyagiEdited By: Abhi MalviyaPublished: Sat, 25 Mar 2023 10:02 PM (IST)Updated: Sat, 25 Mar 2023 10:02 PM (IST)
एक व्यक्ति ने अपने सगे भाई की धारदार बलकटी से वार कर हत्या कर दी।

हापुड़, जागरण संवाददाता।  जमीन की खातिर थाना हाफिजपुर क्षेत्र के गांव चितौली में एक व्यक्ति ने अपने सगे भाई की धारदार बलकटी से वार कर हत्या कर दी। घटना पर पर्दा डालने के लिए शव को बोरे में बंद कर एक सूखे कुएं में फेक दिया। शनिवार को ग्रामीणों की शिकायत पर पुलिस ने हत्यारोपित को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। हत्यारोपित की निशानदेही पर शव बरामद कर पुलिस ने पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। हत्यारोपित के खिलाफ पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

जानें पूरा मामला

एएसपी मुकेश चंद्र मिश्र ने बताया कि गांव चितौली की रहने वासी सिंगादी देवी के पति कमल सिंह का देहांत हो चुका है। उसका बड़ा पुत्र पवन कुमार उर्फ टिल्लू (55 वर्षीय) शराब पीने का आदी था। शराब की लत के चलते 12 साल वह भारतीय सेना में फौजी की नौकरी छोड़कर आ गया था। इसी कारण ही कई वर्ष पहले उसकी पत्नी भी उसे छोड़कर चली गई थी। इसके बाद से वह माता और भाई सुनील के साथ रह रहा था। दो मार्च वह संदिग्ध परिस्थितियों में लापता हो गया था। लेकिन, स्वजन ने उसकी गुमशुदगी दर्ज नहीं कराई थी। शक होने पर शनिवार को कुछ ग्रामीणों से सूचना मिली कि सुनील ने अपने भाई की हत्या कर दी है।

पुलिस ने सुनील को हिरासत में लिया और उससे सख्ती से पूछताछ की। इस दौरान उसने बताया कि पवन अौर उसके नाम नौ बीघा जमीन है। पवन अपने हिस्से की जमीन को बेचना चाहता था। इतना ही नहीं पवन को बैंक से एफडी के 20 लाख रुपये मिले थे। जमीन व रुपये हड़पने के लालच में उसने पवन की हत्या करने की ठगी थी। दो मार्च को वह ट्रैक्टर-ट्राली लेकर भाई पवन के साथ खेत पर गया था। इसी दौरान जमीन में हिस्सा मांगने को लेकर उसका भाई से विवाद हो गया। इस दौरान उसने बलकटी से पवन की गर्दन पर वार कर उसकी हत्या कर दी।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.