जागरण संवाददाता, हापुड़ :

मीट विक्रेताओं ने पशुवध गृह के लिए अस्थायी स्थान चयनित करने की मांग की है। इसके लिए बृहस्पतिवार को एक प्रतिनिधिमंडल अपर जिलाधिकारी जयनाथ यादव और मुख्य सफाई निरीक्षक से उनके कार्यालय में मिला। वहीं, अधिकारियों ने मीट विक्रेताओं को सबसे पहले एनजीटी के मानकों को पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

पूर्व विधायक गजराज सिंह के नेतृत्व में दोपहर के समय एक प्रतिनिधिमंडल अपर जिलाधिकारी के कार्यालय पहुंचा। प्रधान हाजी नईम कुरैशी ने कहा कि शहर में मांस की आपूर्ति के लिए नगर पालिका द्वारा पूर्व में पशुवध गृह बनाया गया था लेकिन, काफी दिन पहले इस पशुवध गृह को बंद करा दिया गया था, जिस कारण शहर में मांस की आपूर्ति में भारी परेशानी हो रही है। जबकि, नगर पालिका ने भी 41 दुकानदारों को मीट बेचने हेतु अनापत्ति प्रमाण-पत्र जारी किए हुए हैं परंतु, पशुवध गृह न होने के कारण दुकानदारों को अत्यधिक परेशानी झेलनी पड़ रही है। इसलिए वर्तमान में कोई अस्थाई स्थान का चयन जरूर कर दिया जाए।

इस दौरान हाजी हासिम कुरैशी, हाजी सगीर कुरैशी, कालू, रिजवान, शहजाद, हाजी जाहिद, मोहम्मद शाहिद और इमरान मौजूद रहे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस