संवाद सहयोगी, मौदहा : रेलवे विभाग की ओर से विभिन्न मार्गों पर बनवाए गए अंडरब्रिजों में बारिश का पानी भरने से 12 गांवों का कस्बे से संपर्क कट गया है। ऐसे में रेलवे विभाग की ओर से लोगों को सुविधा उपलब्ध कराने की मंशा से बनाए गए यह अंडर ब्रिज बरसात के मौसम में लोगों के लिए मुसीबत बन गए हैं। लोगों का कहना है कि स्थायी समाधान न होने के कारण उन्हें दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

रेलवे ने क्षेत्र के कपसा मार्ग, सिसोलर मार्ग अरतरा मार्ग व करहिया मार्ग पर अंडर ब्रिज बनवाए थे। ताकि यहां से गुजरने वाले वाहन रेलवे ट्रैक के ऊपर के बजाय नीचे से निकल जाए। इस सुविधा का लाभ लोगों को सर्दियों और गर्मियों के मौसम में तो मिलता है। बरसात के मौसम में इन अंडर ब्रिजों में बारिश का पानी भर जाने से यहां से होकर जाने वाले मार्गों में आवागमन ठप हो जाता है। क्षेत्र में हो रही बारिश के चलते मौजूदा में सभी अंडर ब्रिजों में पानी भर जाने से लोगों के वाहनों का निकलना चलना मुश्किल हो गया है। लोग बमुश्किल वाहन निकाल पा रहे हैं या फिर रेलवे ट्रैक के ऊपर से वाहन किसी तरह निकाल रहे हैं। हालांकि इनमें पानी भरने पर रेलवे विभाग पंपिग सेट लगवा इसे हटवाता रहा है। इस समस्या से निजात दिलाने को विभाग ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। इससे कपसा, सिसोलर व खंडेह क्षेत्र के कई गांवों का संपर्क मुख्यालय से लगभग कट गया है। इस समस्या को लेकर ग्रामीण क्षेत्र के लोगों ने रेल विभाग के प्रति खासा आक्रोश है।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस