संवाद सूत्र कुरारा : इलाहाबाद बैंक (परिवर्तित नाम इंडियन बैंक शाखा) में केवाइसी फार्म भरकर जमा करने के बाद भी खाते में लेनदेन की सुविधा नहीं मिल पा रही है। इसके चलते क्षेत्र का खाता धारक परेशान होकर बैंक के चक्कर लगा रहा है।

कस्बा स्थित इलाहाबाद बैंक शाखा का संबद्ध इंडियन बैंक में हो जाने पर हजारों की संख्या में खातों का संचालन बंद हो गया है। इसमें बंद खाता खोलने के लिए खाता धारक से केवाइसी फार्म भरकर जमा कराया जा रहा है। बैंक कर्मचारियों की लापरवाही के चलते खाताधारक बैंक के चक्कर लगाकर परेशान घूम रहे हैं।

क्षेत्र के डामर गांव निवासी मजदूर मनफूल पत्नी कलावती ने बताया कि हम दोनों का खाता इंडियन बैंक शाखा कुरारा में है। एक माह पूर्व केवाइसी फॉर्म भरकर बैंक शाखा में जमा किया था। अभी तक खाते में लेनदेन प्रारंभ नहीं हो सका है। बैंक जाने पर कर्मचारी डांट कर भगा देते हैं। इसी खाते में हमारा मनरेगा में किए गए कार्य का मजदूरी की धनराशि आती है। अभी हाल में 15 दिन हम दोनों ने मनरेगा में काम किया था। उसकी मजदूरी ग्राम पंचायत द्वारा खाते में भेजी है। मजदूरी नहीं निकल पा रही है। इससे परिवार के भरण-पोषण में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जबकि शासन के सख्त निर्देश हैं की मजदूरी का भुगतान बैंक तुरंत करें। लेकिन इस बैंक शाखा के कर्मचारियों की लापरवाही के चलते मजदूरों को बैंक के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं। क्षेत्र के मजदूरों ने जिलाधिकारी से मांग की है कि मजदूरों के खाते केवाइसी के बाद संचालन के निर्देश जारी किए जाए।

Posted By: Jagran

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस