संस, भरुआ सुमेरपुर : राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की जमीन पर कब्जा जमाकर दुकान मकान बनाने वाले बस स्टाप के 14 अतिक्रमणकारियों का अतिक्रमण ढहाने आए पीएनसी के अधिकारियों को व्यापार मंडल का तीखा विरोध झेलना पड़ा। बाद में आए सदर क्षेत्र से भाजपा विधायक युवराज सिंह ने कहा कि जब तक हाईवे का विस्तारीकरण नहीं होगा तब तक किसी का स्थायी भवन नहीं ढहाया जाएगा। अस्थायी अतिक्रमण दीपावली के बाद हटा सकते हैं। विधायक के इस फरमान के बाद अतिक्रमण ढहाने आये पीएनसी के बुलडोजर बैरंग लौट गए। इससे अतिक्रमणकारियों ने राहत महसूस की है।

सोमवार को सुबह राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के कारिडोर मैनेजर राम सिंह सैनी, हाईवे पेट्रोलियम मैनेजर ललित प्रसाद सिंह, देवेंद्र कुमार जायसवाल के साथ बुलडोजर आदि लेकर आ पहुंचे और दो घंटे की मोहलत देते हुए अतिक्रमण हटाने का फरमान सुना दिया। पीएनसी का बुलडोजर आने की भनक पाकर व्यापार मंडल अध्यक्ष महेश गुप्ता अपनी पूरी टीम के साथ पहुंचे और अतिक्रमण हटाने का विरोध किया। व्यापार मंडल के विरोध को देखते हुए पीएनसी के अधिकारियों ने तहसीलदार सदर मोहम्मद असलम के साथ थाने से पुलिस बल मौके पर बुला लिया। तब तक व्यापार मंडल अध्यक्ष ने प्रकरण से सदर विधायक युवराज सिंह, भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश उपाध्यक्ष शिवशंकर सिंह एवं जिलाध्यक्ष ब्रजकिशोर गुप्ता को अवगत कराकर न्याय की मांग की। व्यापार मंडल अध्यक्ष की सूचना पर सदर विधायक मौके पर पहुंचे और पीएनसी के अधिकारियों एवं सदर तहसीलदार से वार्ता करते हुए कहा कि जब तक हाईवे का विस्तारीकरण नहीं होगा, तब तक स्थायी अतिक्रमण नहीं हटाया जाएगा। दीपावली के बाद चाहे तो अस्थायी अतिक्रमण हटा सकते हैं। विधायक का यह फरमान सुनने के बाद अतिक्रमण हटाने आई पीएनसी की टीम साजो सामान के साथ बैरंग वापस लौट गई। वार्ता के दौरान अनिल परनामी, अनुज शिवहरे, विजय चौरसिया, आशीष गुप्ता, कृष्ण कुमार, अरिमर्दन सिंह, रणवीर सिंह, आदित्य अवस्थी, रोहित शिवहरे मौजूद रहे।

Edited By: Jagran