जागरण संवाददाता, हमीरपुर : बुधवार की सुबह शुरू हुई बारिश ने लोगों को गर्मी से राहत दी, लेकिन इस बारिश से कई स्थानों में जलभराव की स्थिति हो गई। जिसके कारण लोगों को परेशानियों का भी सामना करना पड़ा। बुधवार सुबह 11 बजे से लेकर शाम पांच बजे तक कुल 48 एमएम बारिश हुई।

बुधवार सुबह से ही मुख्यालय समेत जिले के विभिन्न स्थानों में बारिश होना शुरू हो गई थी। छह घंटे तक हुई लगातार बारिश से मुख्यालय के प्रधान डाकघर, कांशीराम कालोनी, पुलिस लाइन मुख्य गेट, जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक आवास को जाने वाला मार्ग जलमग्न नजर आया। प्रधान डाकघर में जलभराव होने के कारण वहां आने वाले ग्राहकों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही कांशीराम कालोनी में भी जलभराव देखने को मिला। कांशीराम कालोनी निवासी चुन्ना ड्राइवर की बेटी की सगाई की रस्म जलभराव के कारण फीकी हो गई। घर के बाहर जलभराव होने के कारण काफी परेशानी हुई और हलवाइयों को जलभराव वाले स्थान में भट्ठी रखकर खाना बनाना पड़ा। इस जलभराव से बाहर से आए मेहमान भी परेशान नजर आए।

फसलों को हो सकता नुकसान

खड़ेही लोधन : मुस्करा विकासखंड के गांव खड़ेही लोधन, मिहुना, महेरा, चिल्ली, बसवारी, बिवार के किसान अपने खेतों में उर्द, मूंग, तिल व मूंगफली की फसल की बुआई किए हुए हैं। कुछ किसानों ने तो हार्वेस्टर मशीन से उर्द की मड़ाई करना शुरू करा दी थी। खड़ेही लोधन के किसान चंद प्रकाश तिवारी, अरुण राजपूत, भगीरथ राजपूत, बीरेंद्र राजपूत, राजाराम तिवारी,दशाराम ने बताया कि खेतों में पकी खड़ी उर्द,मूंग की फसल की फलियां लगातार बारिश होने से उनकी बूंदों से फट जाती है। इससे दाना भी फैल रहा है। ज्यादा बारिश होने से फसल भी सड़ने की स्थिति में पहुंच गई है। इसी प्रकार तिल की फसल को भी नुकसान हो रहा है।

Edited By: Jagran