गोरखपुर, जेएनएन। देवरिया जिले के बरहज थाना क्षेत्र के ग्राम परसिया तिवारी निवासी मोती चंद के पुत्र 18 वर्षीय मुकेश की गुरुवार को रात लाठी-डंडे से पीट कर हत्या कर दी गई। मुकेश का कसूर सिर्फ इतना था कि खेत में मेड़ पर खड़ी गाव की एक युवती को हट जाने को कहा था।

मुकेश गुरुवार को देर शाम अपने खेत की तरफ गया हुआ था। खेत की मेड़ पर आकर खड़ी हुई गाव की एक युवती को उसने हट जाने को कहा तो युवती ने इसका विरोध किया। इसी बीच युवती का पिता भी गाव के एक युवक को लेकर वहा पहुंच गया। दोनों में कहा-सुनी होने लगी। फिर दोनों ने लाठी-डंडे से पीटकर मुकेश को कर दिया। उसे उसी हालत में छोड़कर आरोपित फरार हो गए। बाद में पहुंचे परिजन उसे इलाज के लिए जिला अस्पताल ले गए, जहा स्थिति नाजुक देख चिकित्सक ने गोरखपुर मेडिकल कालेज भेज दिया। मेडिकल कालेज में चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया।

इस हत्या से गांव के स्तब्ध हैं। ग्रामीणों की भी समझ में नहीं आ रहा है कि मुकेश ने आखिर ऐसा कौन सा अपराध कर दिया जिससे उसे अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

इस संबंध में थानाध्यक्ष शिवशकर चौबे ने बताया कि उन्हें सूचना मिली है। पर अभी तहरीर नहीं मिली है। तहरीर मिलने पर कार्रवाई होगी।

युवक की मौत के बाद परिवार में मातम

युवक की मौत के बाद परिवार में मातम का माहौल है। मुकेश पाच भाई और एक बहन में चौथे नंबर का था। हर्ष चन्द्र इंटर कालेज बरहज में हाईस्कूल का छात्र था। माता शाति देवी, पिता मोती का रो-रो कर बुरा हाल है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप