गोरखपुर, जेएनएन। भारतीय हॉकी टीम के उपकप्तान और अर्जुन पुरस्कार प्राप्त खिलाड़ी एसवी सुनील का कहना है कि अगले वर्ष जापान में आयोजित होने वाले ओलंपिक में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीतने का लक्ष्य है। लक्ष्य हासिल करने के लिए भारतीय टीम पूरी ताकत से जुटी हुई है।

मिल रही बेहतर सुविधाएं

एसवी सुनील शनिवार को कुशीनगर में थे। वह 15वें अखिल भारतीय शहीद मेजर अमिय त्रिपाठी स्मारक क्रिकेट प्रतियोगिता का उद्घाटन करने आए हुए थे। पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार से हॉकी खिलाडिय़ों को काफी मदद और सुविधाएं मिल रहीं हैं। नरेंद्र बत्रा के भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष बनने के बाद भारतीय हॉकी में काफी परिवर्तन हुआ है। खिलाडिय़ों को सुविधाएं बढ़ी हैं।

विश्‍व रैंकिंग में भारतीय हॉकी टीम पांचवे स्‍थान पर

अंतरराष्ट्रीय स्तर के खेल उपकरण उपलब्ध कराए जा रहे हैं। नतीजा यह है कि विश्व रैंकिंग में कभी 12वें,13वें स्थान पर रहने वाली भारतीय हाकी टीम वर्तमान में पांचवें स्थान पर है। उनका मानना है कि खेल के क्षेत्र में कॅरियर की काफी संभावनाएं हैं। जुनून हो तो खिलाड़ी राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी पहचान बना सकता है। बशर्ते उसे पूरे मनोयोग से लगना होगा।

स्‍कूलों और कालेजों में बुनियादी सुविधाएं अावश्‍यक

देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए स्कूलों और कॉलेजों में बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध करानी होंगी। कर्नाटक का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि वह कर्नाटक के कुर्ग क्षेत्र से हैं, जहां नियमित रूप से हॉकी प्रतियोगिताएं आयोजित होती रहती हैं। 

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस