Move to Jagran APP

UP Samuhik Vivah Yojana 2023: शादी के इंतजार में गोरखपुर के 1848 जोड़े, तिथि नहीं तय कर पा रहा विभाग

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम के लिए दो बार प्रस्तावित तिथि स्थगित हो चुकी है। ऐसे में बेटियों की शादी के लिए अभिभावक तिथि का इंतजार कर रहे हैं। वहीं बजट वापस होने से बचाने को इसी महीने सामूहिक विवाह कार्यक्रम का आयोजन करना होगा।

By Jagran NewsEdited By: Pragati ChandPublished: Fri, 24 Mar 2023 10:01 AM (IST)Updated: Fri, 24 Mar 2023 10:01 AM (IST)
सामूहिक विवाह कार्यक्रम के इंतजार में जोड़े। (प्रतीकात्मक तस्वीर)

गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर जिले में सरकारी सहायता से शादी का इंतजार 1848 जोड़े कर रहे हैं। वधुओं के माता-पिता पंजीकरण करा चुके हैं और शादी की तिथि का इंतजार कर रहे हैं। अब तक 13 एवं 22 मार्च की तिथि उन्हें बताई गई थी, लेकिन आयोजन नहीं हो सका। आवेदकों को अब 27 मार्च की संभावित तिथि बताई जा रही है, लेकिन यह भी अभी तय नहीं है। इस महीने कार्यक्रम आयोजित नहीं हुआ तो बजट वापस हो जाएगा। सरकार की ओर से एक शादी पर 51 हजार रुपये खर्च किए जाते हैं।

loksabha election banner

ये है व्यवस्था

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह कार्यक्रम के तहत बेटियों की शादी के लिए मिलने वाली व्यक्तिगत आर्थिक सहायता को बंद कर दिया गया है। अब केवल सामूहिक विवाह कार्यक्रम में शामिल होने वाले जोड़ों को ही यह सहायता मिलती है। इसके पहले आयोजित कराए गए समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी नवविवाहित जोड़ों को आशीर्वाद देने पहुंचे थे। मार्च में एक बार फिर आयोजन कराया जाना है।

पहले निर्धारित थी ये तिथि

आसपास के जिलों में आयोजन हो भी चुका है। इसके लिए पहले 13 मार्च की तिथि निर्धारित थी, लेकिन कतिपय कारणों से उसे टाल दिया गया। इसके बाद 22 मार्च की तिथि निर्धारित की गई, लेकिन उस तिथि को भी कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया। आवेदकों को अब 27 मार्च की तिथि बताई जा रही है, लेकिन यह भी संभावित ही है। माना जा रहा है कि प्रशासन इस कार्यक्रम में एक बार फिर मुख्यमंत्री को आमंत्रित करना चाहता है। जिला समाज कल्याण अधिकारी वशिष्ठ नारायण सिंह ने बताया कि सामूहिक विवाह कार्यक्रम की तिथि जल्द तय कर ली जाएगी।

क्या कहती हैं महिलाएं

  • जैनपुर की सोमारी देवी ने बताया कि बिटिया की शादी सामूहिक विवाह कार्यक्रम में होनी है। लड़के वालों से भी बात की गई है। अब तक दो बार तिथि बताई गई है, लेकिन कार्यक्रम नहीं हो सका। अब तीसरी बार भी तिथि तो बताई गई है, लेकिन अभी तक कोई और संदेश नहीं मिला। बार-बार शादी टलने से दिक्कत हो रही है।
  • इस्लामपुर की रेशमा देवी ने बताया कि मेरी बेटी की शादी सामूहिक विवाह कार्यक्रम में होनी है। अब तक तीन बार तिथि बताई गई है। दो बार तो आयोजन नहीं हुआ। कोई कारण नहीं बताता। हमारी ओर से पूरी तैयारी थी। रिश्तेदारों को भी बता दिया गया था, लेकिन अचानक तिथि फिर परिवर्तित हो गई। अब इंतजार है कि कब शादी संपन्न होगी।

इस ब्लाक से चयनित हैं इतने आवेदन

ब्लाक - चयनित आवेदन

बांसगांव - 96

बड़हलगंज - 85

बेलघाट - 212

भटहट - 99

ब्रह्मपुर - 88

भरोहिया - 46

कैंपियरगंज - 82

चरगांवा - 100

गगहा - 97

गोला - 93

जंगल कौड़िया - 51

कौड़ीराम - 85

खजनी - 75

खोराबार - 27

पाली - 126

पिपराइच - 38

पिपरौली - 114

सहजनवा - 105

सरदारनगर - 50

उरुवा - 85

कस्बा क्षेत्र - 94

कुल - 1848


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.