गोरखपुर, जेएनएन। जालसाजों ने गुलरिहा के जंगल हरपुर गांव के रहने वाले मजदूर दंपती को पहले झांसे में लिया। उनसे कई बैंक में खाते खोलवाए, खाते में जमा पैसे उड़ाए और इन खातों में जालसाजी से रुपये डालकर जमकर लेन-देन करते रहे।

पूछताछ के बाद गाजीपुर पुलिस ने मजदूर को छोड़ा

शिकायत के आधार पर गाजीपुर जिले की पुलिस ने पूछताछ के लिए मजदूर उठाया तो मामले की जानकारी हुई। हकीकत पता चलने पर पुलिस ने मजदूर को छोड़ दिया। हालांकि पुलिस जालसाजों तक अभी नहीं पहुंच सकी है।

जानकारी के अनुसार गाजीपुर के मरदह थाना की पुलिस ने गुलरिहा पुलिस की मदद से क्षेत्र के जंगल हरपुर निवासी मुन्ना को हिरासत में लिया। पता चला कि मुन्ना के बैंक खातों से लाखों रुपये का लेनदेन हुआ है, जिसमें गाजीपुर जिले में हुई जालसाजी के कुछ रुपये भी ट्रांसफर किए गए हैं।

मजदूर ने बतायी कहानी

भटहट चौकी पर पूछताछ में मुन्ना ने पुलिस को बताया कि दो साल पहले पत्नी के पास एक अनजान नंबर से फोन आया था। फोन करने वाले ने बताया कि एक मोबाइल कंपनी से पचास लाख रुपये की लॉटरी निकली है, जिसे पाने के लिए खाते में एक लाख रुपये भेजना है। पत्नी के दबाव में उसने कर्ज लेकर बताए गए खाते में रुपये जमा कर दिए। पैसा भेजने के बाद दोबारा फोन आया। इस बार फोन करने वाले ने कहा कि रकम ज्यादा है इसलिए और खाते चाहिए। उन्होंने पति और पत्नी के नाम से चार खाते खोलवाकर उसका एटीएम कार्ड पिन कोड समेत पूरी बैंक डिटेल एक निर्धारित पते पर रजिस्ट्री करने को कहा। दंपती ने वही किया। जालसाज इन खातों में कुछ दिन तक लाखों रुपये डालते रहे। पति-पत्नी भी इसमें से जरूरत के मुताबिक रुपये निकाल ले रहे थे। उन्‍हें नहीं पता था कि उनके साथ क्‍या हो रहा है।

Posted By: Satish Shukla

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस