गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना संक्रमण के कारण अब थोक मंडी में सुबह नहीं देर रात से ही माल की बिक्री शुरू हो जाएगी। बढ़ती फुटकर कारोबारियों की भीड़ को देखते हुए कृषि उत्पादन मंडी प्रशासन ने मंगलवार को बैठक कर निर्णय लेते हुए समय में बदलाव कर दिया है।

मंडी समिति की बैठक में लिया गया निर्णय

मंडी समिति की बैठक में लिए गए निर्णय के तहत सब्जी मंडी में माल की बिक्री रात 12 बजे से शुरू हो जाएगी और सुबह सात बजे तक लगातार मंडी चलेगी। इस दौरान किसान भी अपना माल आसानी से मंडी में बेच सकेंगे।

अब रात में ही किसान अपना माल बेचकर जाएंगे

अभी तक बाहर से आने वाले किसान मंडी में ट्रैक्टर-ट्राली एवं अन्य संसाधनों से अपना माल लेकर रात में ही मंडी आ जाते थे। आढ़तियों से बात कर माल की बिक्री के लिए सुबह सात बजे मंडी शुरू होने का इंतजार करता थे। अब ऐसा नहीं होगा किसान अपना माल देर रात लाकर आसानी से मंडियों में बेचकर वापस चले जाएंगे और उन्हें मंडी में रातभर समय नहीं गुजारना पड़ेगा।

सेक्टर प्रभारी सब्जी अंकुश कुमार श्रीवास्तव के अनुसार नई व्यवस्था लागू हो जाने के बाद मंडी का समय बदल दिया गया है। इस दौरान फुटकर कारोबारी मंडी में प्रवेश नहीं कर सकेंगे।

सेक्टर--------क्रय-विक्रय का समय

सब्जी मंडी----रात्रि 12 से सुबह सात बजे तक।

आलू मंडी-----सुबह सात से दोपहर एक बजे तक।

फल मंडी------सुबह सात से दोपहर एक बजे तक।     

गल्ला मंडी------सुबह 11 से सायं छह बजे तक।  

मछली मंडी-----सुबह पांच से 11 बजे तक।  

बता दें कि सप्‍ताह में अब दो दिन गोरखपुर में लाकडाउन रहेगा। शुक्रवार की रात आठ से सोमवार की सुबह सात बजे तक लोगों को घरों से निकलने की मनाही है। ऐसे में सब्‍जी/ फल मंडी में सामान लेने आने वालों की सहूलियत के लिए मंडी में बिक्री की व्‍यवस्‍था निर्धारित की गई है।