गोरखपुर, जेएनएन। बेलीपार के हाटा चंदौली गांव में मंगलवार की दोपहर चुनावी रंजिश में मनबढ़ ने शिव चर्चा में शामिल प्रधान पद की प्रत्याशी के निवर्तमान प्रधान व उनके एक समर्थक को गोली मार दी। ताबड़तोड़ फायरिंग से मौके पर भगदौड़ मच गई। गांव के लोगों ने साहस दिखाते हुए गोली चलाने वाले युवक को पकड़ लिया। पिटाई के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया। दो घायलों की स्थिति गंभीर होने पर मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया है। गांव में तनाव को देखते हुए फोर्स तैनात कर दी गई है। डीएम के विजयेंद्र पांडियन व एसएसपी दिनेश कुमार पी ने घटनास्थल का दौरा कर स्थिति का जायजा लिया।

समय माता स्‍थान पर करा रहे थे शिव चर्चा

हाटा चंदौली गांव से प्रधान पद की प्रत्याशी शीला गुप्ता के समर्थन में निवर्तमान प्रधान अखिलेश सिंह गांव के समय माता स्थान पर शिव चर्चा करा रहे थे। दोपहर बाद 3.30 बजे उसी गांव के दूसरे प्रधान पद के प्रत्याशी संतोष निषाद का समर्थक जयेश निषाद पहुंचा। आते ही उसने अखिलेश सिंह व शीला को लक्ष्य कर पिस्टल से ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। गोली लगने से अखिलेश, शीला देवी और उनके सहयोगी नंद गोपाल घायल हो गए। वारदात के बाद भाग रहे जयेश को ग्रामीणों ने दौड़ाकर पकड़ लिया। पिटाई करने के बाद पिस्टल समेत पुलिस को सौंप दिया। परिवार के लोग घायलों को लेकर जिला अस्पताल पहुंचे। अखिलेश सिंह के सीने व गर्दन में तीन व नन्द गोपाल प्रजापति के पैर में एक गोली लगी है। दोनों को डाक्टरों ने मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। जहां अखिलेश सिंह की हालत नाजुक बनी हुई है। प्रधान प्रत्याशी शीला देवी के दाएं हाथ को छूते हुए गोली निकल गई है। प्राथमिक उपचार के बाद उन्हें घर भेज दिया गया। हिरासत में लिए गए जयेश से पुलिस पूछताछ कर रही है। वारदात की साजिश रचने वाले दूसरे प्रत्याशी संतोष व उसके साथियों की तलाश में बेलीपार पुलिस छापेमारी कर रही है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप