गोरखपुर, जेएनएन। सोशल मीडिया (Social Media) पर पिछले दिनों भिखारियों के गैंग द्वारा बच्‍चों की किडनी निकाल लिए जाने की अफवाह गोरखपुर के एसपी सिटी (SP City) के बयान के साथ छेड़छाड़ कर फैलाई गई थी। शरारती तत्‍वों ने एसपी सिटी (SP City) के बयान को कट पेस्‍ट करके Video तैयार किया और फ‍िर उसे Viral कर दिया।

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

एसपी सिटी (SP City) के बयान को टेंपर कर सोशल मीडिया (Social Media) पर वायरल करने वाले अज्ञात व्यक्ति पर कैंट पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया है। थाने में तैनात दारोगा ने इस संबंध में तहरीर दी। साइबर सेल की मदद से प्रभारी निरीक्षक मामले की जांच कर रहे हैं।

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वीडियो

सोशल मीडिया (Social Media) पर गोरखपुर पुलिस का एक फर्जी वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें बताया जा रहा है कि भिखारी के वेष में 500 लोग जिले में आए हैं। जो बच्चों को पकड़कर किडनी व कलेजा निकाल ले रहे हैं। पुलिस ने बरगदवा में कुछ लोगों को पकड़ा है। वायरल वीडियो में एसपी सिटी के बयान को टेंपर करके जोड़ा गया था।

एसएसपी ने कहा कड़ी कार्रवाई होगी

मामला संज्ञान में आने पर कैंट पुलिस ने जांच की तो पता चला कि किसी अधिकारी ने कोई बयान नहीं दिया है। कैंट थाने में तैनात दारोगा इत्यानंद पांडेय ने अज्ञात के खिलाफ ख्याति को हानि पहुंचाने, भ्रम फैलाने और 66 आइटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया। एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि भ्रम फैलाने वाले पर कार्रवाई होगी।

एक सप्ताह पहले मीडिया सेल ने जारी किया था खंडन

एसएसपी के मीडिया सेल ने एक सप्ताह पहले वायरल हो रहे वीडियो के संबंध में खंडन जारी किया था। जिसमें बताया गया था कि किसी शरारती तत्व ने ऐसा किया है, जिसकी जांच हो रही है। एसपी सिटी डॉ. कौश्तुभ ने प्रेस वार्ता कर वीडियो को फर्जी बताया था।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस