गोरखपुर, जेएनएन। रेलवे के लेखा विभाग के 4800 ग्रेड पे वेतनमान वाले सीनियर सेक्शन आफिसर (सीएसओ), ट्रैफिक इंस्पेक्टर एकाउंट (टीआइए), ट्रैफिक इंस्पेक्टर (टीआइ) स्टोर के लिए राहत भरी खबर है। वह उनके 5400 ग्रेड पे वेतनमान का रास्ता साफ हो गया है। रेल मंत्रालय के अनुमोदन पर रेलवे बोर्ड ने वेतनमान बढ़ाने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर दिया है।

5400 ग्रेड पे वेतनमान का मिलेगा लाभ 

रेलवे बोर्ड की नई गाइड लाइन के अनुसार 4800 ग्रेड पे वेतनमान में चार वर्ष पूरा करने वाले कर्मचारियों को 5400 ग्रेड पे वेतनमान का लाभ मिलेगा। रेलवे बोर्ड के इस निर्णय से रेलकर्मियों में खुशी है। कर्मचारी संगठनों ने बोर्ड के फैसले का स्वागत किया है। पूर्वोत्तर रेलवे कर्मचारी संघ (पीआरकेएस) के महामंत्री विनोद कुमार राय ने पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन से पदोन्नति पाने वाले इन कर्मचारियों को राजपत्रित अधिकारी का दर्जा देने की भी मांग की है। 

एनएफआइआर ने उठाया था मुद्रा

उन्होंने कहा है कि नेशनल फेडरेशन आफ इंडियन रेलवे (एनएफआइआर) के राष्ट्रीय महामंत्री डा. एम राघवैया ने रेल मंत्रालय और बोर्ड के समक्ष लेखा विभाग के इन कर्मचारियों को 4800 से 5400 ग्रेड पे वेतनमान पर पदोन्नित का मामला उठाया था। इस निर्णय से सैकड़ों कर्मचारियों को लाभ मिलेगा। उन्होंने बताया कि संघ का एक प्रतिनिधिमंडल जल्द ही महाप्रबंधक, लेखा से मिल कर इस आदेश का अनुपालन सुनिश्चित कराएगा। एनई रेजवे मजदूर यूनियन (नरमू) के महामंत्री केएल गुप्त ने कहा कि आल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन (एआइआरएफ) के महामंत्री शिव गोपाल मिश्र लगातार इस मुद्दे को रेल मंत्रालय और रेलवे बोर्ड के समक्ष उठाते रहे हैं। रेल मंत्रालय व बोर्ड का यह निर्णय स्वागत योग्य है। इस फैसले से एक ही वेतनमान पर वर्षों से कार्यरत कर्मचारियों को आर्थिक लाभ मिलेगा।

टिकट चेकिंग स्टाफ का टीकाकरण नहीं होने से रोष

टिकट चेकिंग स्टाफ का टीकाकरण नहीं होने से रेलकर्मियों में राेष है। इंडियन रेलवे टिकट चेकिंग स्टाफ आर्गनाइजेशन (आइआरटीसीएसओ) के संरक्षक टीएन पांडेय ने कहा है कि टीकाकरण नहीं होने से कर्मचारियों में भय का माहौल है। संगठन ने सभी टिकट चेकिंग स्टाफ को टीका लगाने के लिए रेलवे प्रशासन को पत्र लिखा है। लगातार गुहार लगाई जा रही है। लेकिन अभी तक सभी टिकट चेकिंग स्टाफ (टीटीई) को टीका नहीं लग पाया है। इसको लेकर कर्मचारियों में आक्रोश है।