गोरखपुर, जागरण संवाददाता : बस्‍ती जिले में हाईवे पर छावनी थाना क्षेत्र के शंकरपुर के समीप स्थित एक ढाबे के पास बेसहारा पशु के सामने आ जाने से तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर पार कर दूसरी लेन में वाहन से टकरा गई। हादसे में कार में सवार महिला समेत दो लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन लोग घायल हो गए। मौके पर पहुंचे चौकी प्रभारी विक्रमजोत मनीष कुमार जायसवाल ने घायलों को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र विक्रमजोत पहुंचाया। क्षतिग्रस्त वाहन को हटवाकर यातायात बहाल कराया।

बस्‍ती में इलाज कराकर वापस लौट रहे थे कार सवार लोग

गोंडा जनपद के परसपुर थाना के बलवत्थरपुरवा निवासी वशिष्ठ सिंह पुत्र विश्वनाथ, बलवत्थरपुरवा के अजय, काशी, विजय पुत्रगण बुद्धू व करनैलगंज थाने के हरदयालपुर की सुमन दुबे पत्नी सुरेश दुबे कार से बस्ती इलाज कराने आए थे। यहां से इलाज कराने के बाद वापस लौट रहे थे। शंकरपुर के पास समीप ढाबे के पास पहुंचते ही सामने से बेसहारा पशु आ गया। उसे बचाने के चक्कर में कार अनियंत्रित होकर डिवाइडर पार कर दूसरी लेन में जाकर वाहन से टकराकर क्षतिग्रस्त हो गई।

घायल लोगों को कार में से निकालने के लिए करनी पड़ी मशक्‍कत

कार में फंसे घायलों को निकालने में पुलिस को काफी मशक्‍कत करनी पड़ी। मौके पर पहुंचे विक्रमजोत चौकी प्रभारी ने कार के दरवाजे को तोड़वाकर घायलों को बाहर निकाला और सीएचसी विक्रमजोत भेजा, जहां चिकित्सक ने 35 वर्षीय सुमन दुबे व 55 वर्षीय वशिष्ठ सिंह को मृत घोषित कर दिया। घायलों की स्थित नाजुक देखते हुए उन्हें जिला चिकित्सालय अयोध्या रेफर कर दिया। चौकी प्रभारी ने घटना की जानकारी मृतक के स्वजन को दे दी गई है। क्षतिग्रस्त कार को हटवाकर यातायात बहाल कराया।

मार्ग दुर्घटना में घायल बाइक सवार की इलाज के दौरान मौत

हर्रेया थाना क्षेत्र के महुघाट के पास मार्ग दुर्घटना में घायल बाइक सवार बाबूराम की तीसरे दिन लखनऊ में इलाज के दौरान मौत हो गई। पैकोलिया थाना क्षेत्र के देबया बक्स पांडेय गांव निवासी 40 वर्षीय बाबूराम पुत्र छोटेलाल अपनी बाइक से अयोध्या की ओर जा रहे थे। महूघाट के पास पहुंचते ही एक अज्ञात वाहन की चपेट में आने से गंभीर रूप से घायल हो गए थे। लखनऊ में एक निजी अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान मौत हो गई। मौत की खबर से पूरे गांव में मातम पसरा है।

Edited By: Rahul Srivastava