गोरखपुर, जेएनएन। लूट के बाद अपराधियों द्वारा गोली मारे जाने के बाद पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो पीडि़त कर्मचारी पेट में फंसी गोली लेकर एसएसपी के पास पहुंच गया। एसएसपी ने संबंधित थानेदार को लूट करने के आरोपित एसएसबी जवान को गिरफ्तार करने के लिए 24 घंटे की मोहलत दी है। पीडि़त कर्मचारी ने एसएसपी मुलाकात कर पुलिस पर आरोपित को बचाने का आरोप लगाया। जिसके बाद एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता चिलुआताल थानेदार पर बिफर पड़े। निर्धारित समय के भीतर आरोपित को गिरफ्तार न कर पाने पर उन्होंने थानेदार को लाइन में आमद कराने को कहा है।

गुलरिहा, रघुनाथपुर, मिरचाईन टोला निवासी छोटेलाल का बेटा मनीष जायसवाल जीतपुर बाजार में शराब की दुकान पर मुनीम का काम करते हैं। पुलिस कार्यालय पहुंचे मनीष ने एसएसपी को बताया कि 14 अगस्त की रात में 10 बजे दुकान बंद कर वह खाना खाने जा रहे थे। तभी दो बाइक सवार चार बदमाश पहुंचे और दुकान में घुसने लगे। विरोध करने पर बदमाशों ने उसे गोली मार दी। काउंटर के पास रखा झोला लेकर फरार हो गए। परिजन उसे मेडिकल कालेज ले गए जहां से केजीएमयू रेफर कर दिया गया। गोली अब भी उसके पेट में फंसी है।

पुलिस ने लूट का मुकदमा तो दर्ज किया लेकिन हत्या के प्रयास का मामला नहीं बढ़ाया। क्राइम ब्रांच ने चिलुआताल के छोटका सोनबरसा निवासी रोहित, उसके भाई सन्नू कुमार और रिश्तेदार साकेत गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। तीनों ने पूछताछ में चौथे आरोपित का नाम बताया जो एसएसबी का जवान है। चिलुआताल थानेदार चौथे आरोपित को बच रहे हैं। एसएसपी डॉ. सुनील गुप्ता ने बताया कि 24 घंटे के भीतर एसएसबी जवान को गिरफ्तार करने का निर्देश दिया है।  यदि कोई लापरवाही सामने आई तो थानेदार के खिलाफ कार्रवाई होगी।

तमंचे के बल पर दुकान का कैश बाक्स लूटा

उधर, गोरखपुर ग्रामीण क्षेत्र में बाइक सवार तीन बदमाशों ने तमंचे के बल पर गल्ले की दुकान का कैश बाक्स लूट लिया। घटना गोला थाना क्षेत्र के नेवास तिराहे पर हुई। दिनदहाड़े दुकान में घुसकर लूट होने का वायरलेस मैसेज पास होते ही ग्रामीण क्षेत्र के सभी थानों की पुलिस सड़क पर आ गई लेकिन बदमाशों को पकड़ नहीं सकी।

सिकरीगंज थाना क्षेत्र के महादेवा बाजार निवासी दीनानाथ की गल्ले की दुकान गोला क्षेत्र के नेवास तिराहे पर है। बाइक सवार तीन युवक आए और पांच सौ रुपये का फुटकर मांगने लगे। दुकानदार के मना करने पर एक बदमाश ने कनपटी पर तमंचा सटा दिया जबकि दूसरे ने रुपये से भरा कैश बाक्स लूट लिया और खजनी की ओर फरार हो गए। दुकानदार ने बताया कि कैश बाक्स में 25 हजार से अधिक रुपये थे। गोला पुलिस ने अगल-बगल की दुकानों में लगे सीसी कैमरों को खंगाला तो तीनों बदमाशों की फोटो कैद मिली। गोला के प्रभारी निरीक्षक संतोष यादव ने कहा कि बदमाशों की पहचान हो गई है। शीघ्र ही गिरफ्तारी भी हो जाएगी।

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस