गोरखपुर, जागरण संवाददाता। बेटे के हमले से घायल गगहा के तिघरा खुर्द के अमवा निवासिनी 58 वर्षीया चंद्रकला की 28 जनवरी शाम हो गई। उन्‍हीं के बेटे ने फावड़े से हमला कर उनकाे घायल कर दिया था। इस मामले में पुलिस ने आरोपित बेटे के विरुद्ध गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया है। आरोपित की तलाश की जा रही है।

मां से अलग पत्‍नी के साथ रहता था आरोपित

चंद्रकला का पुत्र पिंटू पत्नी के साथ मां से अलग रहता था। आये-दिन चंद्रकला से उसका किसी न किसी बात पर मां से विवाद होता था। बीते 16 जनवरी को पिंटू ने फावड़े से अपनी मां पर हमला कर दिया था। इससे चंद्रकला गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। स्वजन के मुताबिक पिंटू के पिता रामहरि पुलिस को घटना की सूचना देकर गोरखपुर में पत्नी का इलाज करा रहे थे।

रुपये के अभाव में पति नहीं करा सके इलाज

पास रुपये खत्म होने पर वह पत्नी को लेकर घर आ गए। 28 जनवरी को चंद्रकला की मौत हो गई। पुलिस ने इस मामले में पिंटू की बहन आंचल के तहरीर पर उसके विरुद्ध मारपीट का मुकदमा दर्ज किया था। चंद्रकला की मौत होने के बाद पुलिस ने गैर इरादतन हत्या की धारा बढ़ाई है। पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर मामले की जांच में जुटी है। चौकी प्रभारी सोहगौरा ने बताया कि गैर इरादतन हत्या की धारा बढ़ाकर आरोपित की तलाश की जा रही है।

सिटी हास्पिटल के बाहर गार्ड और तीमारदार से मारपीट, वीडियो वायरल

गुलरिहा इलाके के मोगलहा स्थित सिटी हास्पिटल के गार्ड और तीमारदार के बीच शुक्रवार की रात मारपीट हो गई।घटना का वीडियो इंटरनेट मीडिया पर वायरल हो रही है। गुलरिहा पुलिस मामले की जांच कर रही है। सेमरा नंबर दो निवासी शैलेन्द्र श्रीवास्तव अपनी पत्नी के साथ 28 जनवरी की रात आठ बजे बाइक से दवा लेने हास्पिटल गए थे। हास्पिटल के सामने खड़ी बाइक में उन्होंने हेलमेट टांग दिया।

हेलमेट गायब होने को लेकर हुआ विवाद

दवा लेकर लौटे तो हेलमेट गायब था। उन्होंने गार्ड के ऊपर हेलमेट चोरी का आरोप लगा दिया। इसी बात को लेकर विवाद हो गया।ड्यूटी पर तैनात गार्ड ने अपने डंडे से तीमारदार की पिटाई कर दी, जिससे बुरी तरह घायल हो गए। गुलरिहा पुलिस ने घायल तीमारदार को सिटी हॉस्पिटल में ही भर्ती कराया।प्रभारी निरीक्षक गुलरिहा अमित कुमार दुबे का कहना है कि घायल का अस्पताल में इलाज चल रहा है।अभी तक तहरीर नहीं मिली है।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi