गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ाई जाएगी। पुलिस कर्मियों की ड्यूटी अब दो शिफ्ट में लगाने की तैयारी है। इसके लिए एयरपोर्ट चौकी पर नए पुलिस कर्मियों की तैनाती कर उन्हें प्रशिक्षित किया जाएगा। सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा के बाद एडीजी जोन ने इसकी तैयारियां शुरू कर दी हैं। भारतीय वायु सेना स्टेशन के परिसर में स्थित गोरखपुर एयरपोर्ट की सुरक्षा बढ़ाने की कवायद लंबे समय से चल रही है।
नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो के अलर्ट घोषित करने के बाद एडीजी ने एयरपोर्ट परिसर की सुरक्षा-व्यवस्था चाक-चौबंद करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। एयरपोर्ट पुलिस चौकी पर सिपाहियों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ ही उन्हें प्रशिक्षित भी किया जाएगा। 50 फीसद बढ़ेंगे सुरक्षाकर्मी वर्तमान में एयरपोर्ट चौकी पर एक इंस्पेक्टर, आठ दारोगा और 63 सिपाही तैनात हैं। सुरक्षा-व्यवस्था को देखते हुए एडीजी ने पुलिसकर्मियों की संख्या में 50 फीसद की बढ़ोत्तरी का निर्णय लिया है। जल्द ही आवेदन लेकर दारोगा व सिपाहियों को तैनात कर दिया जाएगा।
एयरपोर्ट की ऐसी है सुरक्षा व्यवस्था गोरखपुर एयरपोर्ट पर सीसी कैमरे, डीएफएमडी (डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर), एचएचएमडी ( हैंड हेल्ड मेटल डिटेक्टर) लगे हैं। 2016 से पहले यहां 22 पुलिसकर्मी तैनात थे।
आइजी सुरक्षा के निर्देश पर 2017 में पुलिस कर्मियों की संख्या बढ़ाई गई थी। इसके बाद से कोई इजाफा नहीं हुआ। इसलिए बढ़ाई जा रही सुरक्षा एडीजी जोन दावा शेरपा का कहना है कि एयरपोर्ट की सुरक्षा-व्यवस्था चाक चौबंद करने की तैयारी है। पिछले एक साल में विमान व यात्रियों की संख्या काफी इजाफा हुआ है, जिसको देखते हुए पुलिसकर्मियों की संख्या बढ़ाने का निर्णय लिया गया है। पुलिसकर्मियों की ड्यूटी भी दो शिफ्ट में लगेगी।