कुशीनगर : रोहिग्या, संदिग्ध व्यक्ति व बाहरी बदमाशों की तलाश में पुलिस किराएदारों का नए सिरे से सत्यापन करेगी। कुशीनगर तथा आस-पास के जनपदों में इसके संकेत मिलने के बाद यह कदम उठाया गया है। एडीजी जोन के निर्देश पर कुशीनगर पुलिस ने इसे लेकर कवायद शुरू कर दी है।

एडीजी जोन का पत्र जिला मुख्यालय आया है। इसमें कहा गया है कि खासकर नेपाल के नजदीक तथा बिहार राज्य से लगे होने के कारण कुशीनगर में बाहरी अपराधियों के साथ ही देश विरोधी गतिविधियों में शामिल रोहिग्या के यहां प्रवेश की आशंका है। ऐसे में अपराधियों तथा रोहिग्या पर शिकंजा कसने के लिए किराएदारों का सत्यापन कराना जरूरी है। इस क्रम में मंगलवार को पुलिस अधिकारियों ने थानेदारों को निर्देश जारी कर इसे तत्काल अमल में लाने का निर्देश दिया है।

लापरवाही पर नपेंगे मकान मालिक भी

मकान मालिक की जिम्मेदारी होगी कि वह किराएदारों का फार्म भरकर थाने में जमा करें। फार्म जमा करने के साथ ही मकान मालिक को थाने से इसकी रसीद मिलेगी। इसके बाद पुलिस उस व्यक्ति का सत्यापन कर थाने के रिकार्ड में डिटेल दर्ज करेगी। यदि जांच में पाया गया कि मकान मालिक ने किराएदार का सत्यापन नहीं कराया है तो पुलिस मकान मालिक के खिलाफ भी कार्रवाई करेगी। किराएदारों का सत्यापन फार्म यूपी पुलिस की वेबसाइट द्धह्लह्लश्चह्यठ्ठ//www.ह्वश्चश्चश्रद्यद्बष्द्ग.द्दश्र1.द्बठ्ठ पर उपलब्ध है। चरित्र सत्यापन ह्वश्च श्चश्रद्यद्बष्द्ग ष्श्रश्च ड्डश्चश्च के जरिये भी आनलाइन किया जा सकता है।

एएसपी एपी सिंह ने कहा कि रोहिग्या व अपराधी अपनी पहचान छिपाकर ही रहते हैं। इनकी पूरी जानकारी किए बिना ही मकान मालिक इन्हें किराए पर रख लेते हैं। यह देखते हुए कुशीनगर में अभियान चलाकर किराए पर रह रहे लोगों का सत्यापन कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। जिससे कि संदिग्धों को चिन्हित कर उनके विरुद्ध कार्रवाई की जा सके।

Edited By: Jagran