गोरखपुर, जागरण संवाददाता। देवर‍िया के गौरीबाजार ब्लाक सभागार में आयोजित संगोष्ठी के दौरान बैनर पर ब्लाक प्रमुख का फोटो न होने पर शनिवार को बवाल हो गया। आरोप है कि राज्यमंत्री जयप्रकाश निषाद के पुत्र विश्वविजय निषाद व उनके समर्थकों ने डीआरडीए के परियोजना निदेशक व प्रभारी बीडीओ संजय पांडेय व कर्मचारियों से हाथापाई की। इस दौरान लोगों ने कुर्सियां से हमला किया। जिससे कई लोगों को चोटें आई हैं।

गौरी बाजार ब्‍लाक में आयोजित थी संगोष्‍ठी

पं.दीनदयाल उपाध्याय की जयंती अवसर पर गौरीबाजार ब्लाक सभागार में किसान कल्याण मेला व संगोष्ठी का आयोजन किया गया।गौरीबाजार की ब्लाक प्रमुख अनिता निषाद के पति व राज्यमंत्री जयप्रकाश निषाद के पुत्र विश्वविजय निषाद भी कार्यक्रम में पहुंचे थे। बैनर पर ब्लाक प्रमुख का फोटो नहीं होने पर प्रभारी बीडीओ से पूछा। इसको लेकर दोनों लोगों में कहासुनी होने लगी। इसके बाद ब्लाक प्रमुख के पति विश्वविजय बाहर निकल गए।

हाथापाई करने के साथ कुर्सी से किया हमला

करीब 20 मिनट बाद वह दोबारा अपने समर्थकों के साथ संगोष्ठी में पहुंचे। आरोप है कि प्रभारी बीडीओ से कहासुनी के बाद हाथापाई व कुर्सियाें से हमला किया गया। जिससे कई लोगों को चोटें आईं। सभागार में भगदड़ मच गई। हाथापाई व कुर्सियां से हमला का वीडियो भी सामने आया है। घटना से आहत प्रभारी बीडीओ संजय पांडेय ने कहा कि यदि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई तो वह आत्मदाह कर लेंगे।

डीएम ने गठित की टीम, जांच शुरू

घटना के बाद डीएम आशुतोष निरंजन ने सीडीओ रवींद्र कुमार की अध्यक्षता में जांच टीम गठित की है। इस टीम में एएसपी राजेश कुमार सोनकर व एसडीएम सदर सौरभ सिंह शामिल हैं। सीडीओ व अन्य अधिकारी गौरीबाजार पहुंचे और वीडियो फुटेज व अन्य साक्ष्य एकत्र किए। सीडीओ ने बताया कि वीडियो में परियोजना निदेशक को कुर्सी से मारते हुए साफ दिख रहा है। जांच कर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

घटना के बाद कार्यक्रम में पहुंचे थे विधायक

घटना के बाद देवरिया सदर के भाजपा विधायक डा.सत्यप्रकाश मणि गौरीबाजार ब्लाक में आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। उन्होंने किसान कल्याण मेला में स्टाल आदि का निरीक्षण किया और कार्यक्रम को संबोधित करने के बाद कुशीनगर के लिए रवाना हो गए।

कर्मचारियों के साथ हुई मारपीट व हाथापाई

प्रभारी बीडीओ व परियोजना निदेशक जिला ग्राम्य विकास अभिकरण संजय पांडेय बैनर में जनप्रतिनिधियों की फोटो लगी थी। ब्लाक प्रमुख का फोटो नहीं था। जिस पर विश्वविजय निषाद नाराज हो गए। उन्होंने समर्थकों के साथ मेरे व कर्मचारियों के साथ हाथापाई व कुर्सियाें से हमला किया। उधर राज्‍यमंत्री के पुत्र विश्वविजय निषाद ने कहा कि मैं मौके पर नहीं था, न ही हाथापाई की। जो भी आरोप लगाए गए हैं। वह निराधार हैं।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi