गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना कर्फ्यू के बाद भी शहर में दो दिन से यातायात का दबाव बढ़ गया है। इसे रोकने के लिए पुलिस ने सख्ती शुरू कर दी है। शहर में आने वाले सभी रास्तों पर बैरियर लगाकर चेकिंग की जा रही है।बिना वजह आने वालों से जुर्माना वसूलने के साथ ही पुलिस गाड़ी का चालान काट रही है।सोमवार को पुलिस ने 600 वाहनों का चालान कर 3.75 लाख रुपये शमन शुल्क किया। 

एसएसपी ने कालेसर, कड़जहां, नौसढ़, बरगदवां में लगवाया बैरियर 

कोरोना का संक्रमण कम होने के साथ ही लोगों की लापरवाही भी बढ़ गई है। कोरोना कर्फ्यू के बाद भी बड़ी संख्या में लोग बिना, मास्क व हेलमेट के निकलने लगे हैं। शहर में बढ़ी भीड़ ने प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों की परेशानी बढ़ा दी है। इसे कम करने के लिए पुलिस ने सख्ती शुरू कर दी है। केवल आवश्यक सेवा से जुड़े लोग ही आवागमन कर सके इसके लिए बैरियर लगाकर चेकिंग शुरू कर दी है।

एसएसपी ने जिले के सभी थानेदारों को निर्देश दिए हैं कि आवश्यक वस्तु और आकस्मिक सेवा से जुड़े वाहन के अलावा किसी को शहर की तरफ न आने दे। मनमानी करने वालों पर कार्रवाई करें।शहर से होकर देवरिया, महराजगंज, कुशीनगर और सोनौली की तरफ जाने वालों के लिए रूट डायवर्जन जारी किया गया है। 

इन रास्तों से जाएंगे देवरिया, कुशीनगर व महराजगंज के लोग

लखनऊ-वाराणसी से आने वाले महराजगंज और सोनौली के लोग कालेसर होते हुए गंतव्य की ओर जाएंगे। 

लखनऊ-वाराणसी से आने वाले कुशीनगर व देवरिया के लोग बाघागाड़ा फोरलेन के रास्ते जाएंगे। 

कुशीनगर व देवरिया जाने वाले महराजगंज के लोग कोनी तिराहा होते हुए गंतव्य की ओर जाएंगे। 

कोरोना कर्फ्यू का सख्ती से पालन कराया जा रहा है। बाहर आने-जाने वाले देवरिया, कुशीनगर व महराजगंज के लोग अपने वाहन लेकर शहर में न आ सके इसके लिए रूट डायवर्जन किया गया है। शहर में आने वाले सभी प्रमुख रास्तों पर बैरियर लगाकर पुलिस चेकिंग कर रही है। - दिनेश कुमार पी, एसएसपी।