गोरखपुर : कुशीनगर के कसया में नेशनल हाइवे पुलिस चौकी के समीप एक ही रात दो दुकानों में हुई चोरी के मामले में सीसीटीवी फुटेज के सहारे मुकामी पुलिस चोरों तक पहुंचने में कामयाब हो गई है। पुलिस सूत्रों की मानें तो इस घटना को अंतर प्रांतीय चोरों ने अंजाम दिया है। डीसीएम सवार बदमाश प्रदेश के मेरठ मंडल के निवासी हैं। उनकी तलाश में पुलिस टीम वहां गई है। दल के कुछ सदस्य पुलिस के हाथ लग चुके हैं। इनके पकड़े जाने से जनपद में घटित कई अन्य चोरियों का भी राजफाश हो सकता है। बता दें कि बीते 14 अप्रैल की रात पुलिस चौकी के समीप संतोष वर्मा के मोबाइल शाप में लगभग साढ़े चार लाख व विरेंद्र ¨सह के माल में चोरों ने घुसकर 12 हजार रुपया नकद चुरा लिया था। सीसी टीवी फुटेज में दो डीसीएम से आए बदमाश जैग के माध्यम से शटर उठाते और चोरी करते साफ दिखे। चोर इतने दुस्साहसी थे कि उन्होंने चेहरा भी नहीं छुपाया। सुबह हियुवा नेता ओमप्रकाश वर्मा के नेतृत्व में दुकानदारों ने कस्बे के कई दुकानों में लगे सीसी टीवी फुटेज इकट्ठा कर पुलिस को उपलब्ध कराया। जांच हुई तो दोनों डीसीएम हेतिमपुर मुजहना टोल प्लाजा पर घटना के लगभग एक घंटे बाद क्रास करते मिले। पुलिस आगे बढ़ी तो डीसीएम सवार बदमाशों का लोकेशन बस्ती के हरैया टोल प्लाजा तक मिला। इसके बाद पुलिस ने डीसीएम के नंबर का सहारा लिया तो वह मेरठ का निकला। पुलिस अधीक्षक अशोक पांडेय द्वारा गठित टीम बदमाशों की तलाश में भेजी गई तो वहां सफलता हाथ लगी। बताते हैं कि गिरोह के कुछ सदस्य पुलिस के हाथ लग गए हैं। अन्य की तलाश जारी है। इनसे कस्बा व जिले में घटित अन्य चोरियों का भी पर्दाफाश हो सकता है। सीओ ओमपाल ¨सह ने पुलिस टीम मेरठ भेजे जाने की पुष्टि करते हुए बताया कि कुछ सफलता मिली है। टीम लौटने के बाद ही इस विषय में कुछ स्पष्ट कहा जा सकता है।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021