गोरखपुर, जेएनएन। पूर्वोत्तर रेलवे में चार मार्च से पैसेंजर ट्रेनों (सवारी गाड़ी) का संचालन शुरू हो जाएगा। हालांकि सभी 32 ट्रेनों का संचालन एक साथ शुरू नहीं होगा। मंडलवार और रूटवार क्रम से ट्रेनें चलाई जाएंगी। पहले पैसेंजर ट्रेनें चलेंगी। फिर डेमू और मेमू का नंबर आएगा। शुरुआत इज्जतनगर मंडल से होगी। पांच मार्च से गोरखपुर, लखनऊ और वाराणसी रूट की ट्रेनों का संचालन भी शुरू हो जाएगा।

एक दिन पूर्व खुलेंगे काउंटर

ट्रेनों के चलने से एक दिन पूर्व स्टेशनों पर स्थित जनरल काउंटर खुल जाएंगे। काउंटरों के अलावा मोबाइल यूटीएस एप से भी टिकटों की बुकिंग होगी। होली पर्व में लोगों को राहत तो मिलेगी लेकिन पैसेंजर ट्रेनों में चलने के लिए एक्सप्रेस का किराया देना पड़ेगा। दो से चार गुना किराया बढ़ जाएगा। टिकटों की बिक्री के लिए काउंटरों को दुरुस्त कर लिया गया है।

पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार 9 मार्च से गोरखपुर-सीतापुर पैसेंजर ट्रेन को चलाने की घोषणा हो चुकी है। कोविड-19 प्रोटोकाल के तहत सभी पैसेंजर ट्रेनें एक्सप्रेस के रूप में चलाई जाएंगी। सभी सुरक्षा मानकों का पालन सुनिश्चित कराया जाएगा। इस ट्रेन में साधारण द्वितीय श्रेणी के 08 कोच लगाए जाएंगे।

नौ मार्च से चलेगी गोरखपुर-सीतापुर पैसेंजर ट्रेनें

05093 गोरखपुर-सीतापुर अनारक्षित एक्सप्रेस 09 मार्च से रोजाना सुबह 06.00 बजे रवाना होगी। यह ट्रेन डोमिनगढ़, जगतबेला, सहजनवां, सिहापार, मगहर, खलीलाबाद, बस्ती और गोंडा के रास्ते सभी स्टेशनों पर रुकते हुए अपराह्न 3.05 बजे सीतापुर पहुंचेगी।

05094 सीतापुर- गोरखपुर अनारक्षित एक्सप्रेस 09 मार्च रोजाना अपराह्न 03.45 बजे रवाना होगी। यह ट्रेन खजुरिया, परसेंडी, पैंतीपुर, तहसील फतेहपुर, सुढिया मऊ, बुढ़वल, चौकाघाट, गोंडा, बस्ती, खलीलाबाद के रास्ते सभी स्टेशनों पर रुकते हुए रात 01.15 बजे गोरखपुर पहुंचेगी। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021