गोरखपुर, अतुल मिश्र। 17 वर्ष की उम्र में वृद्वा पेंशन लेने के मामले का खुलाासा हुआ है। मामला सामने आते ही अधिकारियों के होश उड़ गए और आनन फानन में पेंशन की रकम रिकवर कराई कराई लेकिन जिम्‍मेदारों पर कार्रवाई को लेकर विभाग मौन है। संतकबीर नगर जिले के मेहदावल तहसील का है।

प्रधान की भतीजी है युवती

मेहदावल तहसील में ग्राम प्रधान की भतीजी को भी वृद्वा पेंशन के लिए समाज कल्‍याण विभाग ने पात्र मान लिया और उसके खाते में धन भेजते रहे और लाभार्थी खाते से धन निकालती रही। मामले का खुलासा होने के बाद जमा धन की रिकवरी कराई गई है।

12300 रुपये जमा हुए

सांथा ब्‍लाक के सिकरी ग्राम पंचायत के प्रधान जावेद अहमद की भतीजी शीबा खातून के खाते में वृद्वा पेंशन के 12300 रुपये समाज कल्‍याण विभाग द्वारा भेजे गए। धन की निकासी भी समय समय पर की गई। जनसूचना अधिकार के तहत गांव निवासी अब्‍दुल आस पुत्र मो मुस्‍तफा ने सूचना मांगी तब जाकर मामले का खुलासा हुआ। आनन- फानन में धन की रिकवरी कराई गई लेकिन जिम्‍मेदार कर्मी के खिलाफ कार्रवाई नहीं हुई जिससे सवाल खड़ा हो रहा है।

बिना आवेदन कैसे कर दिया आवंटन

सिकरी गांव में नाबालिक के नाम से वृद्वा पेंशन देने पर ग्राम प्रधान व जिम्‍मेदार कर्मचारी इसे मानवीय भूल बता रहे है। लेकिन सवाल खड़ा होता है की अगर जानबूझकर नाबालिक युवती के द्वारा आवेदन किया गया तो जिम्‍मेदार कर्मियों ने आंख बंदकर पेंशन का कैसे आवंटन कर दिया और अगर बिना आवेदन के आवंटन किया गया तो कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति क्‍यों की गई। 

मेंहदावल व सांथा में दर्जनों पर बरसी है कृपा

शासन द्वारा पात्र विकलांग, वृद्वा व विधवा को पेंशन देती है। लेकिन मेंहदावल और सांथा में दर्जनों अपात्रों को पेंशन दिया गया है और अक्‍सर इस बात की महकमें में चर्चा भी होती है लेकिन कार्रवाई नहीं होने के कारण लापरवाही और जानबूझकर सिस्‍टम की हवा निकाली जा रही है। अगर मेंहदावल और सांथा ब्‍लाक के पेंशन सूची की जांच हो जाए तो दर्जनों आपात्रों के नाम का खुलासा होना तय है।

मामला सही मिला तो कार्रवाई तय: सीडीओ

मुख्‍य विकास अधिकारी बब्‍बन उपाध्‍याय ने बताया की अभी मैं मीटिंग में हूँ, सिकरी गांव के प्रकरण की जानकारी की जाएगी तथा जहां भी इस प्रकार के अनियमितता का मामला सामने आएगा सबंधित कर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Pradeep Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप