बस्ती, जागरण संवाददाता। बस्ती जिले के परशुरामपुर थाना क्षेत्र के कोहरायें बाजार के समीप मनोरमा नदी के किनारे एक 35 वर्षीय युवक का शव पाया गया। वह शुक्रवार की शाम से गायब था। मामले में दिवंगत की पत्नी ने परशुरामपुर पुलिस को तहरीर देकर पति के हत्या की आशंका जताते हुए गांव के ही चार लोगों के विरुद्ध तहरीर दी है। तहरीर के आधार पुलिस आरोपितों के विरुद्ध हत्या का मुकदमा दर्ज कर मामले की छानबीन कर रही है।

यह है पूरा मामला

शनिवार की सुबह टहलने निकले ग्रामीणों ने एक युवक का शव नदी के किनारे देखा तो पुलिस को सूचना दी। थोड़ी ही देर में वहां तमाम लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। मौके पर पहुंचे पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। मृतक की शिनाख्त परशुरामपुर थाना क्षेत्र के ही तिरुखा गांव के दयाराम यादव पुत्र भुजई यादव के रूप में हुई। परिजनों के अनुसार शुक्रवार को दयाराम दोपहर बाद चार बजे गांव के ही चार लोगों के साथ घर से निकला था।

मां ने दर्ज कराया था गुमशुदगी का मुकदमा

मृतक की मां दुलारी देवी ने शुक्रवार की रात परशुरामपुर पुलिस को तहरीर देकर बताया था कि शुक्रवार को दोपहर बाद चार बजे उनका बेटा गांव के कुछ लोगों के साथ कोहरायें बाजार गया था। शाम तक वापस नहीं लौटा तो उसकी खोजबीन की गई, मगर उसका पता न चल सका। रात में पुलिस ने मामले में तहरीर के आधार पर गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज किया गया।

मृतक की पत्नी ने लगाया हत्या का आरोप

मृतक दयाराम यादव की पत्नी सरोज ने शनिवार को पति का शव मिलने के बाद पुलिस को तहरीर देकर बताया कि उनके पति गांव के संतोष कुमार, गोपाल, रामजनक व निन्नू यादव के साथ साइकिल से कोहरायें बाजार गए थे। आरोप लगाया कि साथ गए लोग उनके पति को बहला फुसलाकर एक सुनसान स्थान पर ले गए और अपशब्द कहते हुए उसे मारने पीटने लगे। इसी बीच उनके पति ने घर पर फोन कर घटना की जानकारी दी। इसकी सूचना डायल 112 पुलिस को दी गई। पुलिस वहां गई और वास लौट आई पर उनके पति का पता नहीं चला। शनिवार की सुबह उनके पति का शव नदी के किनारे बरामद हुआ। आरोप लगाया कि पति के साथ गए लोगों ने ही उनकी हत्या की है।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट