कुशीनगर : रामकोला थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी 11 वर्षीय बालिका के साथ उसी गांव के दो युवकों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। किसी तरह वह उनके चंगुल से छूटी और थाना क्षेत्र के ही अपने मामा के गांव पहुंची। घटना के छह दिन बाद बुधवार की रात पिता ने मामले में तहरीर दी है। केस दर्ज कर पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही है। गुरुवार की सुबह जांच में सीओ पीड़िता के घर भी पहुंचे।

पिता की तहरीर के मुताबिक उनकी बेटी छोटी बहन के साथ घर पर अकेली थी। वह कार्तिक पूर्णिमा स्नान के दिन बांसी मेले में दुकान लगाने गए थे। गांव के ही दो युवक बाइक से आए और घर में घुस गए। छोटी बेटी के मुंह पर कपड़ा बांध बड़ी बेटी को उठा ले गए। घटना के अगले दिन वह अपने मामा के घर मिली तो आप बीती बताई। बताया कि उसके साथ दुष्कर्म करने के बाद युवकों ने सड़क किनारे छोड़ दिया था। किसी तरह वह अपने मामा के घर पहुंची। पिता का कहना है कि लोकलाज के डर से पहले तो चुप रहा, लेकिन अंतत: पुलिस को तहरीर सौंपी ताकि आरोपितों को सजा मिल सके। सीओ खड्डा शिवाजी सिंह ने बताया कि आरोपितों की गिरफ्तारी को लेकर दबिश दी जा रही है। मामले की गंभीरता से जांच की जा रही है। पीड़िता का मेडिकल कराया जा रहा है।

बच्चा छोड़कर प्रेमी संग चली गई महिला

खड्डा थाना क्षेत्र के एक गांव की महिला दो माह का बच्चा को छोड़कर प्रेमी संग चली गई है। महिला के पति ने गुरुवार को खड्डा थाने में तहरीर सौंप कार्रवाई की मांग की है। पति ने बताया कि 21 नवंबर को शाम को पत्नी मायके से आई थी। 22 नवंबर को शाम को नित्यक्रिया के लिए घर से निकली। उस समय वह गांव के चौराहे पर सामान खरीदने गया था। मां किसी के घर गई थी। पत्नी घर में रखे 25 हजार नकद व जेवर लेकर चली गई। प्रभारी थानाध्यक्ष भगवान सिंह ने बताया कि तहरीर मिली है, छानबीन की जा रही है।

Edited By: Jagran