गोरखपुर, जेएनएन। नेपाल में कम्युनिष्ट दल के एक संगठन ने भारत के विरोध में स्वर मुखर करते हुए सरहद पर ताड-बाड़ लगाने का अभियान शुरु कर दिया है। विप्लव माओवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने चितवन के माडी नगर पालिका पांच क्षेत्र के सोमेश्वरगढ़ी सरहद पर नो मेंसलैंड के करीब तारबाड़ लगाया हुआ है। संगठन का आरोप है कि सीमा के सीमांकन में अंतरराष्ट्रीय नक्शे के विपरीत कई स्थानों पर भारत की तरफ से नेपाली भूमि पर कब्जा किया हुआ है। नेपाली कम्युनिस्ट पार्टी के क्रांतिकारी विद्यार्थी संगठन ने भी सरहद पर तारबाड़ लगाने का समर्थन किया है। संगठन के केंद्रीय सदस्य विरेंद्र शाह ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर भारत-नेपाल सरहद पर तारबाड़ लगाए जाने की पुष्टि की।

माओवादियों ने तारबाड़ लगाने की ली जिम्मेदारी

तारबाड़ लगाए जाने की संगठन ने जिम्मेदारी ली है। कहा कि माओवादियों का विप्लव (क्रांतिकारी) संगठन भारत के साथ-साथ चीन की सरहद पर भी सीमा बचाओ अभियान चलाएगा। जिन स्थानों पर भारत व चीन द्वारा मनमानी कर नक्शे के विपरीत भूमि कब्जा किया गया है, वहां तार बाड़ लगाए जाएंगे। संगठन का कहना है कि हम अपनी भूमि पर किसी को भी कब्जा करने नहीं देंगे। चाहे वह चीन हो या फिर भारत। अभी तो भारत-नेपाल सीमा पर तारबाड़ लगाने का काम शुरू किया गया है। यहां पर काम समाप्त होने के बाद नेपाल-चीन सीमा पर भी तारबाड़ लगाया जाएगा।

भारत-नेपाल के समझौते के विपरीत नेपाल के माओवादियों की तरफ से सीमा पर तारबाड लगाए जाने की सूचना मिलते ही भारत व नेपाल की खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गई हैं। खुफिया एजेंसियों द्वारा यह पता किया जा रहा है कि सच क्या है। बहरहाल भारत और नेपाल का कोई भी अधिकारी ने इस मामले में कुछ बोलने से परहेज कर रहा है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप