देवरिया, जागरण संवाददाता।

देवरिया में युवक व युवती ने खाया जहर, दोनो की मौत- एक ही गांव के थे दोनों

देवरिया के नदुआ में एक प्रेमी युगल ने सोमवार को खौफनाक कदम उठा लिया। पहले प्रेमिका और चंद घटों बाद प्रेमी ने जहर खा लिया। इलाज के लिए दोनों को जिला अस्पताल पहुंचाया गया, जहां चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद पूरे क्षेत्र में सनसनी है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पहले प्रेमिका, फिर प्रेमी ने खाया जहर

गांव के सचिन व गांव की ही सोनी के बीच कई वर्षों से प्रेम चल रहा था। सुबह छह बजे प्रेमिका सोनी ने जहरीला पदार्थ खा लिया, इसकी भनक जब स्वजन को लगी तो उसे लेकर बरहज स्थित एक निजी अस्पताल पर पहुंचे, जहां चिकित्सक ने हालत गंभीर देख जिला अस्पताल रेफर कर दिया। जिला अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मृत्यु हो गई। जब इसकी भनक प्रेमी सचिन को लगी तो उसने भी गांव के बाहर स्थित केले के बागीचे में पहुंचा और जहरीला पदार्थ खा लिया। हालत बिगड़ने के बाद वह तड़पने लगा। यह देख गांव के लोगों ने पुलिस को सूचना दी।

अस्पताल में तोड़ा दम

मौके पर पहुंची पुलिस ने एंबुलेंस के माध्यम से उसे जिला अस्पताल भिजवाया, जहां युवक ने भी दम तोड़ दिया। चार घंटे के अंदर प्रेमी युगल ने इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया। थानाध्यक्ष जयशंकर मिश्र ने बताया कि नदुआ गांव में प्रेम प्रसंग में प्रेमी युगल ने जहर खा लिया। जिसमें दोनों की मृत्यु हो गई है। युवक केले के बागीचे में तथा युवती अपने घर में जहर खाकर जान दे दी। मामले की विवेचना की रही है।

दोनों के बीच परिवार के लोग बन रहे थे बाधा

दोनों के पिता मजदूरी कर परिवार का भरण-पोषण करते हैं। दोनों दूर के रिश्ते में भाई-बहन लगते थे। कई बार इनका प्रेम परवान चढ़ा और यह घर छोड़कर फरार हो गए। दो बार मामला थाने में भी गया और गांव में भी पंचायत हुई। लेकिन बात नहीं बन पाई। दोनों के बीच प्रेम बढ़ता गया। हमेशा दोनों एक साथ रहने की जिद करते, लेकिन परिवार के लोग उनके प्रेम बाधा बनते गए और एक साथ दोनों ने इस दुनिया को छोड़ने की ठानते हुए जहरीला पदार्थ खा लिया।

बस्‍ती में दुपट्टे के सहारे पेड़ की डाल से लटका मिला प्रेमी युगल का शव

उधर, बस्ती ज‍िले के सोनहा थाना क्षेत्र के धोषण गांव में एक किशोर व किशोरी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। दोनों का शव पड़ोस के खैरा गांव के सिवान स्थित गोबिनहवा पोखरे के पास महुआ के पेड़ की डाल से लटका मिला। उनके गले में दुपट्टे का फंदा था। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर घटना के संबंध में लोगों से पूछताछ की।

सुबह टहलने निकले धोषण गांव के कुछ लोगों की नजर खैरा गांव के पोखरे के पास पेड़ से लटके किशोर व किशोरी के शव पर पड़ी। लाल व सफेद रंग के दो दुपट्टों को आपस में बांधा गया था। एक सिरे से किशोर व दूसरे से किशोरी का शव लटका हुआ था। शव देख ग्रामीणों ने शोर मचाया। शोर सुनकर आस पास के गांवों के सैकड़ों लोग वहां पहुंच गए। शव की पहचान मौके पर पहुंचे धोषण गांव के रामगोपाल ने अपने छोटे भाई 17 वर्षीय बृजलाल के रूप में की। वहीं किशोरी की गांव के ही अहमद उर्फ सुल्तान की 16 वर्षीय पुत्री शाहिदा के रूप में हुई।

घटनास्थल के पास ही दोनों की चप्पलें भी पड़ी थीं। कुछ दूर पर बने अंत्येष्टि स्थल के पास दिवंगत की बाइक भी खड़ी मिली। ग्राम प्रधान द्वारा इस बात की सूचना सोनहा पुलिस को दी गई। मौके पर प्रभारी निरीक्षक शशांक शेखर राय व निरीक्षक अरविंद कुमार मौर्य पुलिस टीम के साथ पहुंच गए। कुछ देर बाद क्षेत्राधिकारी रुधौली अंबिका राम व फोरेंसिक टीम पहुंच गई। शवों को नीचे उतरवाया गया। फोरेंसिक टीम ने घटनास्थल से जरूरी साक्ष्य एकत्र किए।

Edited By: Pradeep Srivastava