गोरखपुर, जागरण संवाददाता। बस्ती कोतवाली क्षेत्र के अशोकनगर (मड़वानगर) कॉलोनी में रह रहे सहायक चकबंदी अधिकारी(एसीओ) सीताराम के आवास का ताला तोड़कर चोरों ने न सिर्फ नकदी और जेवरात चुरा लिए बल्कि उसमें रखा लाइसेंसी रिवाल्वर व कारतूस भी उठा ले गए। एक अधिकारी के आवास से लाइसेंसी रिवाल्वर चोरी होने की घटना से पुलिस में हड़कंप मच गया। कोतवाली पुलिस व फोरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर बारीकी से छानबीन की।

सिद्धार्थनगर जिले में हैं तैनात

वर्तमान में सहायक चकबंदी अधिकारी डुमरियागंज सिद्धार्थनगर के पद पर कार्यरत सीताराम मूलरूप से देवरिया जनपद के सलेमपुर थाना क्षेत्र के इटहुआ चंदौली गांव के निवासी है। उन्होंने बताया कि किसी कार्य से वह परिवार के साथ बाहर गए हुए थे। सोमवार की रात जब वह अपने आवास पर पहुंचे तो गेट का ताला टूटा मिला। अंदर जाकर जब कमरों का हाल देखा तो सन्न रह गए। चोरों ने पूरे घर खंगाल डाला था। ऑलमारी, अटैची सबका लॉक टूटा मिला।

कमरे में रखी थी लाइसेंसी रिवाल्‍वर और कारतूस

कमरे में रखी उनकी लाइसेंसी रिवाल्वर (32 बोर), सात कारतूस के अलावा पांच हजार नकदी, एक चांदी की तस्तरी, कटोरा, पायल, बिछिया व एक सोने की अंगूठी पर चोरों ने हाथ साफ कर दिया था। कोतवाली में अज्ञात के चोरी का मुकदमा दर्ज कर घटना की जांच एसएसआइ योगेन्द्र नाथ को सौंपी गई है। अपर पुलिस अधीक्षक दीपेंद्र नाथ चौधरी ने बताया कि एसीओ जल्द बाजी में अपना लाइसेंसी रिवाल्वर कमरे में ही छोड़कर चले गए थे। मामले में पुलिस मुकदमा दर्ज कर छानबीन कर रही है।

पुलिस लाइन स्थित दो आरक्षी आवासों में चोरी

बस्ती पुलिस लाइन में रहने वाले दो आरक्षियों के आवास में चोरी कर पुलिस की नींद उड़ा दी है। सबसे सुरक्षित इलाका माने जाने वाले पुलिस लाइन के ए-1 ब्लॉक के भूतल और प्रथम तल पर चोरी की घटना से पुलिस की छीछालेदर भी हो रही है।कोतवाली में कार्यरत महिला आरक्षी कुसुम प्रथम तल पर तो भूतल पर हेड कांस्टेबल सुधीर राय रहते हैं। वह वर्तमान में डुमरियागंज सिद्धार्थनगर में तैनात हैं। पुलिस लाइन में स्थित आवास में उनकी पत्नी व परिवार के अन्य सदस्य रहते हैं। कुछ दिन पूर्व उनकी माता जी का निधन होने के कारण परिवार के लोग गांव गए हुए थे। 25 नवंबर को बस्ती आए सुधीर अपने आवास पर गए थे।

29 नवंबर को टूटा मिला ताला

तब तक सबकुछ ठीक ठाक था। इसके बाद वे डुमरियागंज सिद्धार्थनगर ड्यूटी पर चले गए। 29 नवंबर को दरवाजे पर लगा ताला टूटा देख पड़ोसियों ने घटना की जानकारी आरआइ पुलिस लाइन को दी। इसके बाद आरआइ ने हेड कांस्टेबल को फोन कर ताला टूटने के बारे में बताया। प्रथम तल पर रहने वालीं आरक्षी कुसुम के मकान का भी ताला टूटा हुआ था। सुधीर राय के कमरे में अलमारी व संदूक में रखे करीब ढाई से तीन लाख रुपये के जेवरात चोर उठा ले गए। जबकि छुट्टी पर गईं आरक्षी कुसुम के कमरे का ताला तोड़कर चोरों ने पॉयल, पांच हजार नकदी व अन्य सामान उड़ा दिया।

Edited By: Navneet Prakash Tripathi