जागरण संवाददाता, गोरखपुर : हरितालिका तीज व्रत बुधवार को परंपरागत रूप से आस्था व श्रद्धा के साथ मनाया जाएगा। मंगलवार को बाजारों में रौनक छाई रही। देर रात तक चहल-पहल बनी रही। जिनका यह पहला तीज व्रत है, उनके लिए यह त्योहार और भी खास है।

बाजारों में खासकर साड़ी, चूड़ी, आभूषणों की दुकानों पर महिलाओं की भीड़ रहीं। गोलघर, सिटी माल, मोहद्दीपुर, आर्यनगर, शाहपुर, राप्तीनगर, घंटाघर, असुरन आदि जगहों पर लगने वाली साड़ियों व सौंदर्य प्रसाधन की दुकानों पर बड़ी संख्या में महिलाएं पहुंचीं और मनपसंद खरीदारी कीं। फल की भी खरीदारी की गई। फलों के दाम में त्योहार को लेकर कोई तेजी नहीं देखी गई। केवल सेब में 20 रुपये और अनार में 10 रुपये की तेजी देखी गई। दुकानदारों के अनुसार यह तेजी त्योहार के चलते नहीं फलों की कम आवक के चलते है।

-------------

फलों के दाम (रुपये किलो में)

-सेब- 80-100

-अनार- 90

-केला- 25-50

-पपीता- 40

-नाशपाती- 80

-अनन्नास- 50

-खीरा- 50-80

-------------------

मेहंदी की दुकानों पर लगी रही भीड़

तीज को लेकर मेहंदी लगवाने के लिए दो-तीन दिन पहले से ही महिलाएं बाजारों का रुख करने लगी थीं। मंगलवार को सुबह से शाम तक मेंहदी रचने वाले कलाकार गोलघर में दुकानों के आसपास जमे हुए थे। मेंहदी लगवाने को लेकर महिलाओं में खासा उत्साह रहा। गोलघर में मेंहदी कलाकार श्रीचंद, अनिल, रामाकांत, लालजी, रामसागर, मोनू व राजकुमार को सुबह से शाम तक फुर्सत नहीं मिली।

------------------

ब्यूटी पार्लर में रही भीड़

करीब सप्ताह भर से शहर के ब्यूटी पार्लरों में महिलाओं की भीड़ जुट रही है। फेशियल, हेयरकटिंग, वैक्स और अन्य कई ब्यूटी सर्विस के लिए महिलाओं ने पहले से ही बुकिंग करा रखी थी। सुबह से लेकर शाम तक ब्यूटी पार्लर पर महिलाओं की भीड़ देखी गई।

------------------

पूजन विधान

पं. नरेंद्र उपाध्याय, पं. शरदचंद्र मिश्र व पं. विवेक उपाध्याय के अनुसार आगन में कलश स्थापित कर उस पर गौरी-शंकर की प्रतिष्ठा कर षोडशोपचार पूजन करें। निराहार व्रत रहकर मां गौरी व भगवान शिव का ध्यान करते हुए रात्रि जागरण करें। दूसरे दिन पारण करें। इस व्रत को भगवान शिव की प्राप्ति के लिए मा पार्वती ने सर्वप्रथम किया था।

Posted By: Jagran