गोरखपुर, जागरण संवाददाता। गोरखपुर नगर निगम में तेल चोरों का सिंडिकेट अब भी सक्रिय है। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने रविवार को मुंशी प्रेमचंद पार्क के पास नगर निगम के स्टोर से थोड़ी दूरी पर चोरी का तेल इकट्ठा करने की सूचना पर छापा मारा। एक जीप के अंदर चार ड्रम में 150 लीटर से ज्यादा डीजल इकट्ठा मिला। नगर आयुक्त को देखकर गाड़ी के अंदर बैठा युवक भाग निकला। नगर आयुक्त के निर्देश पर तेल और जीप को जब्त कर लिया गया है।

यह है पूरा मामला

नगर आयुक्त को सूचना मिली थी कि नगर निगम के स्टोर के पास चोरी का तेल इकट्ठा कर बेचा जाता है। उन्होंने इसकी गोपनीय तरीके से वीडियो बनवायी। वीडियो में कुछ लोग तेल इकट्ठा करते और बेचते दिखे। इसमें नगर निगम के सफाई निरीक्षकों और कुछ कर्मचारियों के संलिप्तता सामने आयी। नगर आयुक्त ने चोरों के नेटवर्क का पर्दाफाश करने के लिए खुद ही छापा मारने का निर्णय लिया। स्टेनो बृजेश तिवारी और चालक के साथ नगर आयुक्त स्टोर के पास पहुंचे। जैसे ही वह जीप की तरफ बढ़े, उसमें बैठा एक युवक भाग निकला। जांच में जीप के अंदर बड़े-बड़े गैलन में तेल भरा मिला।

चाय की दुकान पर बैठे कर्मचारी भाग निकले

जिस जगह से जीप जब्त की गई है, उससे थोड़ी दूरी पर नगर निगम के कर्मचारी रुककर निगरानी कर रहे थे। नगर आयुक्त को देखकर वह सभी भाग निकले।

सफाई निरीक्षकों, सुरवाइजरों का नाम सामने आया

नगर आयुक्त की जांच में कुछ सफाई निरीक्षकों, सुपरवाइजरों व कुछ कर्मचारियों का नाम सामने आया है। कुछ सफेदपोश भी इनको संरक्षण दे रहे हैं। सफाई निरीक्षक एक व्यक्ति को तेल की पर्ची देते हैं। वही व्यक्ति तेल लेता है और इसे बेचता है। इसके बाद सभी का हिस्सा बंटता है। बताया जा रहा है कुछ साल पहले जब ज्वाइंट मजिस्ट्रेट आकांक्षा राणा नगर निगम का काम देख रहीं थी तब भी उस व्यक्ति का नाम तेल चोरी में सामने आया था। कुछ समय तक वह सफाईकर्मी के रूप में भी काम कर चुका है। आकांक्षा राणा ने तलाश तेज करायी तो वह भाग गया था। अब वह एक बार फिर सक्रिय हो गया है और सफाई निरीक्षकों के साथ मिलीभगत कर नगर निगम का तेल चुरा है। जीप किसी सत्यवान के नाम से पंजीकृत है।

क्या कहते हैं अधिकारी

नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि नगर निगम के स्टोर के पास एक वाहन में ड्रम में भरकर तेल रखा मिला है। वाहन और तेल जब्त कर लिया गया है। तेल चोरी में नगर निगम के कुछ सफाई निरीक्षकों, सुपरवाइजरों व कर्मचारियों के नाम सामने आ रहे हैं। इसकी सीडीआर निकलवायी जाएगी। बहुत बड़े पैमाने पर नेटवर्क चल रहा है। किसी को भी नहीं बख्शा जाएगा।

Edited By: Pragati Chand

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट