गोरखपुर, जेएनएन। बस्ती रेलवे स्टेशन यार्ड में बुधवार की रात मालगाड़ी के पटरी से उतर जाने के चलते डाउन लाइन पर ट्रेनों का संचलन ठप है। गाडिय़ां अप लाइन से नियंत्रित कर चलाई जा रही हैं। इसके चलते लखनऊ से गोरखपुर के बीच दर्जनों ट्रेनें दो से 15 घंटे की देरी से चल रही हैं। इस दुर्घटना से रेल प्रशासन के माथे पर बल पड़ गए हैं। रेल यात्री भी परेशान हैं।

फिलहाल, संबंधित रेल अधिकारियों की मौजूदगी में वैगन को पटरी पर लाने का प्रयास किया जा रहा है। दोपहर बाद 2.00 बजे तक मालगाड़ी पटरी पर आ जाएगी। इसके बाद डाउन लाइन भी खाली हो जाएगी। फिर ट्रेनों का संचलन शुरू हो जाएगा। हालांकि, दुर्घटना के कारणों का पता नहीं चला सकता है। इसके लिए पूर्वोत्तर रेलवे प्रशासन ने जाचं टीम बैठा दी है। ट्रेन को पटरी पर लाने के साथ ही दुर्घटना की जांच भी शुरू हो गई है। मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के अनुसार जांच रिपोर्ट के आधार पर दोषियों के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

यहां जान लें कि रात 10.15 बजे के आसपास गोंडा से आ रही सीमेंट लदी अप मालगाड़ी डाउन लाइन से लाइन नंबर छह से होकर बस्ती यार्ड में प्रवेश कर रही थी। इस दौरान उसके बीच के छह वैगन पटरी से उतर गए हैं। इसके चलते वैगन के पार्ट और ट्रैक इधर-उधर बिखर गए हैं। डाउन लाइन बाधित होने से अप लाइन से ही ट्रेनों को नियंत्रित कर चलाया जा रहा है। सुबह चार बजे के आसपास अप लाइन से अवध-असम एक्सप्रेस को पास कराया गया।

विलंब से चलने वाली कुछ ट्रेनें

12512 राप्तीसागर- 13 घंटे।

15008 कृषक- सात घंटे।

12212 गरीब रथ- चार घंटे।

11015 कुशीनगर - पांच घंटे।

15910 अवधअसम- आठ घंटे।

12554 वैशाली - चार घंटे।

12566 बिहारसंपर्क - पांच घंटे।

12558 संपर्कक्रांति - चार घंटे।

11124 ग्वालियरबरौनी-सात घंटे।

12554 गोरखधाम - चार घंटे।

घटनास्थल का जायजा लेने दो बजे बस्ती आएंगे डीआरएम

उधर, डाउन ट्रैक पर आवागमन 15 घंटे बाद भी सामान्य नहीं हो पाया है। वैशाली समेत करीब दो दर्जन से अधिक ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ है। डीआरएम डॉ मोनिका अग्निहोत्री मौके पर निरीक्षण करने जाने वाली हैं। वह बचाव कार्य व नुकसान का जायजा लेंगी।  गोरखपुर और गोंडा की एआरटी टीम व इंजीनियरिंग विभाग द्वारा महाबली क्रेन की सहायता से ट्रैक को खाली कराने में जुटी है।

वैशाली एक्सप्रेस की चपेट में आई बाइक, परखच्‍चे उड़े

उधर, देवरिया में गोरखपुर-छपरा रेल खंड पर बनकटा रेलवे स्टेशन के इंगुरी रेलवे ढाला पर एक बाइक वैशाली एक्सप्रेस की चपेट में आ गई। जिससे बाइक के परख'चे उड़ गए। साथ ही बाइक कुछ दूर तक घसीटती रही। संयोग अ'छा रहा कि ट्रेन की चपेट में कोई नहीं आया। रेलवे ढाला पर दो युवक बाइक पार कर रहे थे। इस बीच बिहार की तरफ से वैशाली एक्सप्रेस आ गई। यह देख युवक बाइक छोड़कर भाग गए। बाइक ट्रेन के इंजन में फंस गई और लगभग एक किलोमीटर तक फंसी रही। साथ ही उसके परखच्‍चे उड़ गए। चालक ने ट्रेन को रोक दिया और बाइक को बाहर निकाला गया। बाद में स्टेशन मास्टर को इसकी सूचना देकर ट्रेन देवरिया के लिए रवाना किया। ट्रेन लगभग 25 मिनट तक रुकी रही। स्टेशन मास्टर प्रमोद कुमार ने कहा कि इसकी जानकारी जीआरपी भटनी को दे दी गई है। 

Posted By: Pradeep Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस