गोरखपुर, जेएनएन। गोरखपुर-महराजगंज मार्ग सीसी फोरलेन बनाई जा रही है। इस रोड का निर्माण कार्य अभी चल ही रहा है, लेकिन जहां सीसी रोड छह माह पहले बन चुकी थी, उसमें दरारें पडऩे लगी हैं, कई जगह गड्ढे हो गए हैं। सड़क बनाने के पूर्व पीडब्ल्यूडी ने दावा किया था कि इस तरह की सड़क 20 साल तक खराब नहीं होती। जबकि सड़क अभी पूरी बनी नहीं और दरारें पडऩे लगी।

गोरखपुर शहर के असुरन चौराहा से परतावल तक फोरलेन सीसी रोड की कुल लंबाई 19.4 किमी है। इसके निर्माण के लिए 183 करोड़ रुपये स्वीकृत हुए हैं। इसका निर्माण मार्च 2016 में शुरू हुआ जो मार्च 2018 में पूरा होना था, लेकिन रिवाइज एस्टीमेट स्वीकृत न होने के चलते कार्य अभी रुका हुआ है।

असुरन से लेकर परतावल तक अनेक जगहों पर फोरलेन व अनेक जगहों पर अभी केवल टू लेन सड़क ही बन पाई है। लगभग छह माह पूर्व मुकम्मल हो चुकी सीसी रोड पर रामपुर चौराहा, नहरापुर व सरैया बाजार में अनेक जगहों पर तीन-तीन फीट के गड्ढे बन गए हैं। भटहट कस्बा स्थित जिला सहकारी बैंक के सामने रोड में पांच मीटर की दरार पड़ गई है।

सड़क में गड्ढे हो जाना सामान्य प्रक्रिया है। मैटेरियल में बालू डाले जाते हैं, कुछ स्थानों पर उनकी अधिकता हो जाने के चलते बाद में वहां गड्ढे बन जाते हैं। उसे ईपाक्सी द्वारा भर दिया जाता है। जहां भी गड्ढे या दरारें हैं, उन्हें बरसात बाद ठीक करा दिया जाएगा। - प्रवीण कुमार अग्रवाल, अधिशासी अभियंता, प्रांतीय खंड, पीडब्ल्यूडी

महराजगंज फोरलेन का निर्माण शुरू हुआ तो क्षेत्र के लोगों में एक नई उम्मीद जगी थी, लेकिन निर्माण कार्य शुरू होने के बाद  उसकी धीमी गति और अब गुणवत्ता विहीन कार्य से लोगों में मायूसी बढ़ी है। - आजाद अली, जैनपुर

करोड़ों रुपये की लागत से बन रही फोरलेन सड़क की गुणवत्ता काफी खराब है। कस्बे में स्थित फोरलेन सड़क में दरारें आने से खराब गुणवत्ता के बारे में सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। - रविंद्र कुमार सिंह, ग्रामीण

सड़क निर्माण में खूब अनियमितता बरती गई। कस्बे में बिजली के खंभे तक लगाने में मनमानी की गई है। अब सड़क में गड्ढे व दरारें पडऩे लगी हैं। मैंने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री के शिकायती पोर्टल पर भी की है। - सुनील कुमार मोदनवाल, अध्यक्ष, व्यापार मंडल

सड़क की खराब गुणवत्ता की जानकारी मिली है। मैंने मुख्य अभियंता से इसकी शिकायत भी की है। यदि जल्द ही जांच कराकर कार्रवाई नहीं की गई, तो मामले को शासन के संज्ञान में लाया जाएगा। - महेंद्र पाल सिंह, विधायक, पिपराइच

Posted By: Pradeep Srivastava

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप