गोरखपुर, जागरण संवाददाता : तीन दिवसीय दौरे पर गोरखपुर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से चैंबर आफ इंडस्ट्रीज के अध्यक्ष विष्णु प्रसाद अजित सरिया एवं पूर्व अध्यक्ष एसके अग्रवाल ने मुलाकात कर रेडीमेड गारमेंट के बारे में चर्चा की। गोरखनाथ मंदिर में उद्यमियों ने मुख्यमंत्री से बताया कि एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) में शामिल रेडीमेड गारमेंट की इकाई लगाने के लिए कई उद्यमियों ने इच्छा जताई है। इसके लिए गारमेंट पार्क विकसित करने की जरूरत है लेकिन उसके लिए जमीन मिलने में देरी हो रही है। उद्यमियों के अनुसार मुख्यमंत्री ने जल्द जमीन उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया है।

200 उद्यमियों ने इकाई लगाने की जताई इच्‍छा

एसके अग्रवाल ने मुख्यमंत्री से बताया कि औद्योगिक इकाई लगाने के लिए भूखंड एवं फ्लैटेड फैक्ट्री मिलाकर करीब 200 उद्यमियों ने इच्छा जताई है। फ्लैटेड फैक्ट्री का काम तो तेजी से चल रहा है, लेकिन भूखंडों के लिए गारमेंट पार्क विकसित नहीं हो पाया है। पहले 50 एकड़ जमीन में पार्क विकसित करने की तैयारी थी लेकिन गीडा सीईओ के साथ बैठक के बाद 25 एकड़ में पार्क विकसित करने पर सहमति बनी थी। भीटी रावत में यह जमीन देने को कहा गया था। कुछ दिन पहले भूखंडों के लिए आवेदन आमंत्रित किए गए हैं, लेकिन उनमें एक एकड़ से कम क्षेत्रफल का कोई भूखंड नहीं है। रेडीमेड गारमेंट के लिए इससे काफी कम जमीन चाहिए। उन्होंने बताया कि जल्द जमीन मिलनी चाहिए।

गीडा के कर्मचारियों के स्‍थानांतरण का भी उठाया मुद्दा

उद्यमियों ने गीडा के कर्मचारियों के स्थानांतरण का मुद्दा भी उठाया। उनका कहना था कि यहां के कर्मचारियों के जाने के बाद कार्य की गति धीमी हुई है। मुख्यमंत्री ने इसे स्थानांतरण नीति के तहत हुआ स्थानांतरण बताया। मुख्यमंत्री ले मंडलायुक्त को उद्यमियों की समस्याओं का निस्तारण करने को कहा है। जल्द ही उद्यमियों का प्रतिनिधि मंडल मंडलायुक्त से भी मिलेगा।

बोर्ड परीक्षा में सफल विद्यार्थियों को सीएम योगी ने दी बधाई

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आइसीएसई एवं आइएससी के बोर्ड परीक्षा परिणाम में सफलता अर्जित करने वाले विद्यार्थियों, उनके अभिभावकों और गुरुजनों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। अपने ट्वीट में सीएम ने लिखा है कि विपरीत परिस्थितियों में यह सफलता विद्यार्थियों के सतत परिश्रम व लगन का प्रतिफल है। उन्होंने विद्यार्थियों को परिणाम का सहजता से मूल्यांकन कर जीवन में आगे बढ़ने की सलाह दी है।

32022 खेल अनुदेशकों की भर्ती बहाली की मांग

प्रशिक्षित शारीरिक शिक्षक अभ्यर्थी संघर्ष मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र पांडेय ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ज्ञापन सौंपा। अपनी मांग दोहराते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि 32022 अनुदेशक अभ्यर्थी पिछले साढ़े चार वर्षों से लगातार हाईकोर्ट का आदेश लेकर न्याय की गुहार लगा रहे है। उधर सरकार के सचिव भर्ती को निरस्त करके सुप्रीम कोर्ट में अपील दाखिल कर चुके हैं। उन्होंने मांग की कि सरकार की अपनी अपील को वापस लेकर हाईकोर्ट के आदेश का पालन करते हुए 32022 खेल अनुदेशक की भर्ती बहाल की जाए ताकि खेल और योग को बढ़ावा मिल सके। उच्च प्राथमिक विद्यालय में खेल टीचर की नियुक्ति हो सके।

Edited By: Rahul Srivastava