महराजगंज: कलेक्ट्रेट सभागार में बुधवार को जिलाधिकारी डा. उज्ज्चल कुमार ने जल जीवन मिशन कार्यक्रम के तहत गांवों में चल रहे कार्यों की समीक्षा की। जिलाधिकारी ने निर्देश दिया कि जिन भी गांवों का डीपीआर स्वीकृत हो चुका है, वहां पर अविलंब कार्य शुरू करा दिया जाए। जिलाधिकारी ने बैठक में प्रस्तुत किए गए कुल 105 डीपीआर के स्वीकृति की संस्तुति की है। शेष गांवों के लिए डीपीआर कंपनी को अविलंब प्रस्तुत करने का निर्देश भी दिया।

बैठक में चयनित फर्म द्वारा 249 राजस्व ग्राम के तैयार डीपीआर की समीक्षा की गयी। साथ ही 197 राजस्व ग्राम पंचायतों के 446 गांवों के डीपीआर की सूची अपडेट करने का निर्देश दिया गया। साथ ही बताया गया कि इसमें 83 गांवों में डीपीआर बनाने को अनुमति दी जा चुकी है। अधिशासी अभियंता जलनिगम आतिस हुसैन ने बताया कि स्वीकृत 105 डीपीआर के तहत 399 बस्तियों में पाईप लाइन का कार्य शुरू कराया जा रहा है। बैठक में डीडीओ जगदीश त्रिपाठी आदि मौजूद रहे।

कार्यदायी संस्थाओं के खिलाफ कार्रवाई के लिए शासन को पत्र भेजने का निर्देश

महराजगंज: जिलाधिकारी डा. उज्ज्वल कुमार की अध्यक्षता में विकास कार्यों व निर्माण कार्य के कार्यदायी संस्थाओं की बुधवार की शाम कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक की गई। बैठक में प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री आवास, मनरेगा, वृद्धा, दिव्यांग, निराश्रित महिला पेंशन, खाद्यान्न सहित अन्य विकास कार्यों के साथ हेल्थ सेंटर, आंगनबाड़ी केंद्र व स्वास्थ्य केंद्र समेत विद्यालय निर्माण की भी समीक्षा की गई।

कार्यदायी संस्थाओं द्वारा समय से निर्माण कार्यों को पूरा नही करने पर जिलाधिकारी ने लापरवाही करने वाले कार्यदायी संस्थाओं में ग्रामीण अभियन्त्रण, एनसीडीएस, उ0प्र0 अभियन्त्र एवं श्रम सहकारी लिमिटेड, सीडीको, राजकीय निर्माण, यूपीपीसीएल के अधिशासी अभियंता व प्रोजेक्ट मैनेजर के खिलाफ कार्रवाई का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने अपर जिलाधिकारी को निर्देश दिया कि इनके खिलाफ कार्रवाई के लिए के खिलाफ शासन को लिखित पत्र भेजा जाए। बैठक में समस्त खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिया कि ब्लाक स्तर से जन्म प्रमाण पत्र, निवास, परिवार रजिस्टर की नकल व प्रमाण पत्र लंबित होने पर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। अपर जिलाधिकारी पंकज वर्मा, सीएमओ डा. एके श्रीवास्तव, सदर एसडीएम साई तेजा सीलम, पीडी राजकरन पाल, डीडीओ जगदीश त्रिपाठी, डीसी मनरेगा अनिल चौधरी, डीएसटीओ अजय यादव, डीआइओएस अशोक कुमार सिंह, बीएसए अशोक कुमार यादव, डीपीआरओ केबी वर्मा, एसीएमओ राजेंद्र प्रसाद आदि अधिकारी मौजूद रहे।

Edited By: Jagran