गोरखपुर (जेएनएन)। महराजगंज जिले के परसामलिक थाना क्षेत्र के ग्राम सभा बरनहवा स्थित मदरसे में शनिवार को मगरमच्छ घुसने से अफरा-तफरी मच गई। मदरसे के बच्चे व शिक्षकों ने भाग कर जान बचाई और 100 नंबर पर फोन कर पुलिस से मदद मांगी।

स्‍थानीय लोगों की मदद से बच्‍चों ने किया काबू

मदरसे में मगरमच्छ के घुसने की खबर पाकर परसामलिक थानाध्यक्ष मयफोर्स मौके पर पहुंच गए और सोहगीबरवा वन्य जीव प्रभाग के डीएफओ मनीष सिंह को फोन कर मगरमच्छ को पकड़ने की व्यवस्था कराने की मांग की। डीएफओ के निर्देश पर दो घंटे बाद वन विभाग के कर्मचारी ग्राम सभा बरनहवा स्थित मदरसे में पहुंचे। इसके पहले ही मदरसे के विद्यार्थी आसपास के लोगों की मदद से मगरमच्‍छ का काबू में  कर लिया था।

मदरसा के बगल में बहती है नदी

यह मदरसा नेपाल बार्डर के पास स्थित है। मदरसे में अच्छी संख्या में बच्चे पढ़ते हैं। मदरसे के बगल में बघेला नदी है। बताते हैं कि किसी समय बघेला नदी से मगरमच्छ निकला होगा और खेत से होते हुए मदरसे में पहुंच गया। शिक्षक और छात्रों का कहना है कि कमरे की ओर मगरमच्छ को आता देख हम सब भयभीत हो गए। शोर मचाते हुए बच्चे कमरे से बाहर की ओर भाग निकले। शिक्षक भी मगरमच्छ को देखकर डर गए थे। वह भी बच्चों के पीछे-पीछे बाहर निकल आए। बच्चों ने कहा कि उन्होंने पहली बार इतने नजदीक से मगरमच्छ को देखा तो डर गए। किसी के समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करें। उसके बाद किसी तरह से पुलिस को सूचना दी गई। घोड़हवा बीट के वन रक्षक रामसुधार ने बताया कि मगरमच्छ को नदी में छोड़ा गया है।

Posted By: Pradeep Srivastava