गोरखपुर, जेएनएन। यूरिन के मरीजों को कोरोना से बचने की जरूरत है। यह वायरस किडनी व शुगर के मरीजों को सर्वाधिक प्रभावित करता है। किडनी पर प्रभाव पड़ने से यूरो की समस्या होना स्वाभाविक है। इसलिए किसी तरह के लक्षण दिखने पर तत्काल कोरोना की जांच कराएं। पेशाब पीला हो रहा हो तो नींबू-पानी का सेवन करें। ठीक न होने पर पीलिया की जांच कराएं। पीलिया की वजह से भी पेशाब पीला हो सकता है। इस समय कोरोना संक्रमण फैला हुआ है, इसलिए घर से बाहर न निकलें। छत पर ही टहलें, योग-प्राणायाम करें। हरी सब्जियां व फलों का सेवन करें। गर्म पानी पीएं और नियमित भाप लें। ये उपाय कोरोना से बचाएंगे।

यह सलाह यूरोलाजिस्ट डा. दिलीप मणि त्रिपाठी ने दी है। वह दैनिक जागरण के लोकप्रिय कार्यक्रम 'हैलो डाक्टर' में मौजूद थे। फोन पर आए सवालों के जवाब में उन्होंने पेशाब में किसी तरह की दिक्कत होने पर तत्काल चिकित्सक से परामर्श लेने की सलाह दी। साथ ही घर से निकलने पर मास्क लगाने व शारीरिक दूरी का पालन करने की बात कही। उन्होंने कहा कि संक्रमण से बचना बहुत जरूरी है और इसके लिए कोविड प्रोटोकाल का सभी को पालन करना चाहिए। प्रस्तुत हैं सवाल- जवाब।

सवाल- सुबह पेशाब पूरा होता है। लेकिन उसके बाद थोड़ा-थोड़ा होता है। - अखिलेश कुमार सिंह, गोरखपुर

जवाब- अल्ट्रासाउंड कराकर किसी यूरोलाजिस्ट को दिखा लें।

सवाल- पेशाब के साथ झाग निगलता है व बदबू आती है। - केसी गुप्ता, बशारतपुर

जवाब- इन्फेक्शन की वजह से यह हो सकता है। यूरिन कल्चर की जांच कराकर किसी डाक्टर को दिखा लीजिए।

सवाल- मेरी उम्र 70 साल है। बार-बार पेशाब लगता है। - श्रीराम, गगहा

जवाब- अल्ट्रासाउंड करा लें। रिपोर्ट देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

सवाल- कभी-कभी पेशाब पीला होता है। -धीमन दास, जटेपुर

जवाब- नींबू पानी का सेवन करें। ठीक न होने पर पीलिया की जांच करा लें।

सवाल- कोरोना से कैसे बचें? -श्यामचंद, गोला बाजार

जवाब- घर से बाहर न निकलें। निकलना जरूरी हो तो मास्क लगाएं व दो गज की दूरी बनाए रहें।

सवाल- पेशाब नहीं हो रहा है। -चंद्रभूषण, बड़हलगंज

जवाब- तत्काल डाक्टर से मिलें।

सवाल- पेशाब के लिए रात को बार-बार जाना पड़ता है और जलन भी होती है। -ओमप्रकाश अग्रवाल, बेतियाहाता

जवाब- शाम को पानी कम पीजिए। यूरिन कल्चर की जांच कराकर डाक्टर को दिखा लीजिए।

सवाल- तीन हफ्ते से खांसी आ रही है। कोरोना की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। -रमन श्रीवास्तव, बिछिया

जवाब- यह फेफड़े की समस्या है। सीना रोग विशेषज्ञ को दिखा लें।

सवाल- प्रास्टेट की दिक्कत है, क्या कोरोना की वैक्सीन लगवा सकते हैं? -सत्यनारायण राय, जानीपुर

जवाब- जी हां। आप वैक्सीन लगवा सकते हैं।

सवाल- पेशाब की धार पतली हो गई है। -रमाकांत, गगहा

जवाब- अल्ट्रासाउंड कराकर डाक्टर से संपर्क करें।

इन्होंने भी पूछे सवाल

गजपुर से ओंकार नाथ दूबे, हुमायूंपुर से प्रदीप गुप्ता, बड़हलगंज से रवि, बांसगांव से दिनेश कुमार, सिंघड़िया से रमाशंकर, कूड़ाघाट से रामआसरे, बिछिया से स्नेही विश्वकर्मा, महादेव झारखंडी से रामनेवास वर्मा व रुस्तमपुर से प्रहलाद अग्रहरि ने भी सवाल पूछे।