गोरखपुर, जेएनएन। कोरोना काल में उत्‍तर प्रदेश में स्‍वास्‍थ्‍य सुवधिाओं की कमी को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी और यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू लगातार सरकार पर हमला कर रहे हैं। इसी क्रम में कांग्रेस की पहल पर कांग्रेस से जुड़े लोगों और तमाम गैर राजनीतिक संगठन से जुड़े एव गोरखपुर के युवाओं में गोरखपुर में आक्सीजन, बेड दवाओं की कमी और दुर्व्यवस्था के खिलाफ मुख्यमंत्री के गोरखपुर आगमन पर फेसबुक लाइव के माध्यम से हल्ला बोलकर आवाज उठाई।

लोगों ने सरकार को कोसा 

लोगो ने आवाज उठाया कि किस तरह मुख्यमंत्री के जिले में ही लोग भारी अव्यवस्था के शिकार है इससे प्रदेश में सब ठीक सरकार के इस दावे की पोल खुल गयी है। मुख्यमंत्री पहले अपने जनपद की व्यवस्था को ठीक कर कागजी बाजीगरी से इस संकट का समाधान नही हो सकता। अपने जिले में चिकित्सकीय असुविधाओं को देखते हुए तत्काल उनका निस्तारण करना करे प्राइवेट अस्पतालों में हो रही लूट कसोट को देखते हुए उन पर नियंत्रण करना चाहिए। ग्रामीण अंचलों में अस्पताल की कमी ऑक्सीजन बेड की और जांच की कमी से जो भयावह स्थिति उत्पन्न है। 

व्‍यवस्‍था सुधरने तक उठाते रहेंगे आवाज

इसे देखते हुए तत्काल निस्तारण करना चाहिए इन सब मुद्दों को लेकर इस कैंपेन के जरिए आवाज उठाई गई। कहा गया कि यदि इसमें सुधार नही होता है तो कांग्रेस पार्टी लगातार आवाज उठाती रहेगी, कांग्रेस पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह सिंह के नेतृत्व में शुरू अभियान में बड़ी संख्या में कांग्रेस नेताओं कार्यकर्ताओं के अलावे गैर राजनैतिक सामाजिक संगठनों एव युवाओं ने आवाज उठायी। 

प्रदेश महामंत्री त्रिभुवन नारायण मिश्र, जिलाध्यक्ष निर्मला पासवान, आशुतोष तिवारी, राकेश यादव, जितेंद्र पांडेय, ओसामा खान, साहिल विक्रम तिवारी, रोहन पांडेय, प्रणव उपाध्याय, सचिदानंद तिवारी, सुबास चन्द्र दास, आलोक शुक्ल, घटोत्कच शुक्ल, कार्तिक मिश्र, अनूप शुक्ल, गणेश मिश्र, ई. शाहिद आदि लोगो ने इस अभियान में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। प्रदेश उपाध्यक्ष विश्वविजय सिंह ने इस अभियान का हिस्‍सा बनने के लिए राजनीतिक संगठनों का इस कैपेन का हिस्सा बनने के लिए विशेष आभार व्यक्त किया।