सिद्धार्थनगर, जेएनएन। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 20 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश को तीसरे अंतरराष्टीय एयरपोर्ट का तोहफा देंगे। पीएम मोदी के 20 को कुशीनगर दौरे के दौरान ही सीएम योगी आदित्यनाथ सिद्धार्थनगर दौरे का भी कार्यक्रम लेने को प्रयासरत है। सीएम योगी आदित्यनाथ सिद्धार्थनगर में शनिवार को पीएम नरेन्द्र मोदी के प्रस्तावित दौरे को लेकर तैयारियों का जायजा लेंगे। बीते तीन दिन से अपनी कर्मभूमि गोरखपुर में प्रवास कर रहे सीएम योगी आदित्यनाथ आज वहां से सिद्धार्थनगर जाने के बाद लखनऊ वापसी करेंगे।

सीएम योगी आदित्यनाथ सिद्धार्थनगर दिन में करीब तीन बजे पहुंचेंगे। यहां से पुलिस लाइंस में हेलिकॉप्टर से आने के बाद वह नवनिर्मित मेडिकल कॉलेज परिसर का स्थलीय निरीक्षण करने के साथ ही जनप्रतिनिधि तथा प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 20 को ही सिद्धार्थनगर से प्रदेश के आठ जनपदों में नव स्थापित राजकीय मेडिकल कालेज का वर्चुअल शुभारंभ करेंगे।

तीन हेलीपैड तैयार

सिद्धार्थनगर में पीएम नरेन्द्र मोदी के कार्यक्रम को लेकर तीन हेलीपैड बनाए जा चुके हैं। मौसम भी अनुकूल है। सांसद जगदंबिका पाल भी मेडिकल कालेज के शुभारंभ के लिए मुख्यमंत्री को पत्र लिख चुके हैं। सांसद ने पत्र में कहा कि मेडिकल कालेज पूरी तरह से तैयार हो चुका है। अब इसका शुभारंभ होना आवश्यक है। प्रधानमंत्री के नरेन्द्र मोदी संभावित कार्यक्रम को लेकर अब जिला तथा पुलिस प्रशासन अलर्ट मोड पर है। जिलाधिकारी दीपक मीणा ने बताया मेडिकल कालेज को मान्यता मिल गई है। प्रधानमंत्री 25 अक्टूबर को वाराणसी आ रहे हैं। प्रस्तावित कार्यक्रम को लेकर मुख्यमंत्री शनिवार को तैयारियों का जायजा लेंगे।

सिद्धार्थनगर में बीती 30 जुलाई को नवनिर्मित मेडिकल कालेज का पीएम नरेन्द्र मोदी के हाथों लोकार्पण का कार्यक्रम प्रस्तावित था, लेकिन उस समय तक कालेज की मान्यता का मामला लटका था। 12 अक्टूबर को वर्चुअल माध्यम से कार्य पूरा होने की समीक्षा के बाद 13 अक्टूबर को देर शाम को मान्यता मिल गई। अब मेडिकल कालेज की मान्यता मिलने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी के कार्यक्रम की तैयारी कर ली है। सिद्धार्थनगर में प्रधानमंत्री जिला जेल के सामने बीएसए परिसर में जनसभा को संबोधित कर सकते हैं। प्रधानमंत्री का एक बार कार्यक्रम टल जाने से लोगों को काफी निराशा हुई थी, अब सीएम योगी आदित्यनाथ इसकी किसी भी तरह से भरपाई कराना चाहते हैं।

Edited By: Dharmendra Pandey